श्रीलंका में सोमवार को भी कोलंबो के बस स्टेशन से 87 बम डेटोनेटर मिले. एक दिन पहले ही श्रीलंका में चर्च और होटलों में भीषण धमाकों में 290 लोगों की मौत हो गयी थी और 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे. देश के मौजूदा हालात को देखते हुए सरकार ने सोमवार आधी रात से आपातकाल लगाने की घोषणा की है.

श्रीलंका पुलिस ने एक बयान में बताया गया कि कोलंबो में शुरूआत में 12 बम डेटोनेटर मिले. बाद में छानबीन पर और 75 डेटोनेटर का पता चला. यह बम डोनेटर सेंट्रल कोलंबो के पेट्टा इलाके के बस स्टेशन में मिले. रविवार को ईस्टर पर चर्च और लक्जरी होटल के सामने अलग-अलग जगह आठ बम विस्फोट हुए, जिसमें 290 लोगों की मौत हो गई थी.

उधर, मौजूदा हालात को देखते हुए, राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) ने देश में आपातकाल लगाने का फैसला किया है. श्रीलंका सरकार के मुताबिक, यह आपातकाल आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षाबलों की शक्तियां बढ़ाने के लिए लगाया जा रहा है और इससे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बाधित नहीं होगी.