निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मध्य प्रदेश पुलिस ने भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. प्रज्ञा ने बाबरी मस्जिद पर विवादित बयान दिया था, जिसके बाद उनके खिलाफ यह कार्रवाई की गई है. इससे पहले निर्वाचन आयोग ने शनिवार को भाजपा प्रत्याशी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था. बाद में उसने दिन में टीटी नगर पुलिस थाने को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर ठाकुर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने को कहा था.

मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) वीएल कांता राव ने पीटीआई-भाषा से कहा कि ठाकुर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस तथा महाराष्ट्र के दिवंगत एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे के बारे में ठाकुर की टिप्पणी के बारे में आयोग को विस्तृत रिपोर्ट सौंपी गई है.

गौरतलब है कि एक साक्षात्कार में प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था, ‘राम मंदिर हम बनाएंगे और भव्य बनाएंगे, हम तोड़ने गए थे ढांचा, मैंने चढ़कर तोड़ा था ढांचा, इस पर मुझे भयंकर गर्व है. मुझे ईश्वर ने शक्ति दी थी, हमने देश का कलंक मिटाया है.’ वहीं, निर्वाचन आयोग के नोटिस पर ठाकुर ने कहा था, ‘मैं पीछे नहीं हटने वाली. ढांचा तोड़ा गया था और भव्य मंदिर बनेगा. भव्य मंदिर बनाने से मुझे कोई नहीं रोक सकता.’