समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस को ‘घमंडी’ पार्टी बताते हुए उस पर विरोधियों को धमकाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है, ‘भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तरह ही कांग्रेस भी अपने राजनीतिक विरोधियों को धमकाने में यकीन रखती है. इस पार्टी का घमंड बहुत ज्यादा है. हमें यह बात तब पता चली जब हमने उसके साथ चुनावी गठबंधन किया था.’ खबरों के मुताबिक अखिलेश यादव ने यह बात बुधवार को उत्तर प्रदेश के हरदोई में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही.

इससे पहले 2017 में सपा ने उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ा था. लेकिन उस चुनाव में भाजपा को मिली भारी जीत के बाद वह गठबंधन टूट गया था.

इधर, आज की रैली में अखिलेश यादव ने भाजपा पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि धर्म और जाति के नाम पर आज भाजपा देश को तोड़ने का काम रह रही है. यह काफी हद तक अंग्रेजों की फूट डालकर शासन करने की नीति जैसा है. इसके साथ ही लोकसभा चुनाव को लेकर किए अपने गठजोड़ को गरीबों का गठबंधन बताते हुए उन्होंने कहा कि यह देश में परिवर्तन लाएगा.

उत्तर प्रदेश में लोकसभा का यह चुनाव सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) एक साथ मिलकर लड़ रहे हैं. उनके गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) भी शामिल है. इन तीनों दलों ने उत्तर प्रदेश की 80 संसदीय सीटों में से 78 पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. इसके अलावा इस गठबंधन ने कांग्रेस के पारंपरिक निर्वाचन क्षेत्रों अमेठी और रायबरेली में अपना कोई प्रत्याशी नहीं उतारने की घोषणा भी की है.