दिल्ली पुलिस ने बुधवार को रोहित शेखर तिवारी कथित हत्याकांड मामले में उनकी पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दोनों अपनी शादी से खुश नहीं थे और उनमें लगातार झगड़े होते रहते थे. रोहित शेखर की 16 अप्रैल को कथित तौर पर गला दबाकर हत्या कर दी गई थी. वहीं, पुलिस अपूर्वा से इस मामले में पिछले रविवार से पूछताछ कर रही थी. बताया जाता है कि वे लगातार अपने बयान बदल रही थीं जिससे पुलिस को उन पर संदेह हुआ.

कांग्रेस ने व्यापम मामले के आरोपित को स्टार प्रचारक बनाया

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई ने व्यापम घोटाले मामले में आरोपित गुलाब सिंह किरार को लोकसभा चुनाव प्रचार अभियान के लिए स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल किया है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बीते साल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हुए किरार पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रिश्तेदार हैं. कांग्रेस ने उन्हें स्टार प्रचारक बनाए जाने का बचाव किया है. पार्टी की राज्य मीडिया कमेटी प्रमुख शोभा ओझा का कहना है कि गुलाब सिंह किरार को व्यापम मामले में सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी है. दूसरी ओर, इस मामले में व्हिसलब्लोअर आशीष चतुर्वेदी का कहना है कि आरोपित नेता को शीर्ष अदालत ने नहीं बल्कि, सीबीआई ने क्लीन चिट दी है. केंद्रीय जांच एजेंसी का कहना है कि इस मामले में किरार नहीं, बल्कि उनका बेटा शामिल था.

बैंकों के खिलाफ शिकायतों में 25 फीसदी की बढ़ोतरी

बैंकों के खिलाफ ग्राहकों की शिकायतों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक जुलाई, 2017 से जून, 2018 तक कुल 1.63 लाख शिकायतें मिली हैं. यह आंकड़ा पिछले साल (2016-17) की तुलना में 25 फीसदी अधिक है. इनमें पेंशन मिलने में परेशानी, बिना सूचना के शुल्क लगाने और गलत जानकारी देकर उत्पाद की बिक्री जैसी शिकायतें अधिक रही हैं. वहीं, बैंककर्मियों के अनुचित व्यवहार से जुड़ी शिकायतों की संख्या सबसे अधिक रही है. यदि बैंकों की बात करें तो सबसे अधिक 47,000 शिकायतें एसबीआई के खिलाफ दर्ज की गईं. इसके बाद एचडीएफसी के लिए यह आंकड़ा 12,000 रहा है. वहीं, बैंकिंग लोकपाल की मानें तो इन 1.63 लाख शिकायतों में से 96 फीसदी का निपटारा हो चुका है. इनमें से प्रति शिकायत निपटारे में औसतन 3,504 रुपये खर्च हुए हैं.

एनआईए विशेष अदालत का प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने से इनकार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने कहा है कि वह भाजपा नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगा सकती. प्रज्ञा मालेगांव विस्फोट (2008) मामले में आरोपित हैं. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक इससे पहले इस हमले में मारे गए एक युवक के पिता ने अदालत में याचिका दायर की थी. इसमें उन्होंने कहा था, ‘प्रज्ञा ठाकुर को स्वास्थ्य कारणों से जमानत मिली थी. अगर चिलचिलाती गर्मी में चुनाव लड़ने के लिए उनका स्वास्थ्य ठीक है तो इसका मतलब है कि उन्होंने कोर्ट को गुमराह किया.’ इस आधार पर याचिकाकर्ता ने कोर्ट से प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी. वहीं, एनआईए अदालत का कहना है कि इस मांग के लिए यह उचित मंच नहीं है. उधर, इस फैसले को प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने सत्य और धर्म की जीत बताया है.

सीपीआई ने राजद से कन्हैया कुमार का समर्थन करने की अपील की

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने राजद से अपने उम्मीदवार कन्हैया कुमार का समर्थन करने की अपील की है. द हिंदू की खबर के मुताबिक पार्टी का कहना है कि बिहार की बेगूसराय सीट पर कन्हैया कुमार को सभी तबके का शानदार समर्थन मिल रहा है और इस लिहाज से महागठबंधन को राजद उम्मीदवार तनवीर हसन को इस लड़ाई से बाहर होने के लिए कहना चाहिए. सीपीआई नेता सुधाकर रेड्डी ने दावा किया कि साल 2014 में दूसरे पायदान पर रहने वाले तनवीर हसन इस बार तीसरे स्थान पर रहेंगे. इन दोनों प्रत्याशियों के अलावा भाजपा के गिरिराज सिंह भी बेगूसराय के चुनावी दंगल में शामिल हैं.

आरबीआई 200 और 500 रुपये के नए नोट जारी करेगा

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 200 और 500 रुपये के नए नोट जारी करने का एलान किया है. केंद्रीय बैंक ने बुधवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक नए नोट पर मौजूदा गवर्नर शक्तिकांत दास के हस्ताक्षर होंगे. इससे पहले जारी इतने मूल्य के नोटों पर पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर थे. हालांकि, आरबीआई ने साफ किया है कि नए नोटों के साथ-साथ पुराने नोट भी प्रचलन में रहेंगे. इसके अलावा नए नोटों के डिजाइन में कोई बदलाव नहीं किया गया है. इससे पहले आरबीआई ने 100 रुपये के नए नोट जारी किए थे. इन पर शक्तिकांत दास के हस्ताक्षर हैं.