भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हिमाचल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती को चुनाव आयोग ने एक और नोटिस जारी किया है. खबरों के मुताबिक उन्हें यह नोटिस उनके ‘बाजू काट लेने’ वाले बयान को लेकर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के निर्वाचन अधिकारी ने भेजा है. इससे पहले इसी बुधवार को मंडी में ही सतपाल सिंह सत्ती ने एक चुनावी सभा संबोधित की थी. उस दौरान उन्होंने कहा था, ‘भाजपा नेताओं को जो कोई उंगली दिखाएगा, उनकी पार्टी के लोग उसका बाजू काट लेंगे.’

लोकसभा के इस चुनाव में यह कोई पहला मौका नहीं है जब सतपाल सिंह सत्ती ने कोई विवादित बयान दिया है. इससे पहले बीते दिनों उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भद्दी टिप्पणी की थी. तब हिमाचल प्रदेश के बद्दी में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी, उनकी मां सोनिया गांधी और उनके बहनोई रॉबर्ट वाड्रा जमानत पर बाहर हैं. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं है. फिर भी राहुल गांधी मोदी को चोर बताते हैं. उसी मौके पर फेसबुक की एक पोस्ट का हवाला देते हुए सत्ती ने राहुल गांधी को मां की गाली दी थी.

उस टिप्पणी के मद्देनजर बीते हफ्ते चुनाव आयोग ने सत्ती के चुनावी प्रचार करने पर 48 घंटे की रोक लगा दी थी. इसके अलावा चुनाव आयोग ने उस रोक के दौरान सत्ती से सामाजिक मंचों के साथ ही सोशल मीडिया से भी दूरी बनाने के लिए कहा था.