तमिलनाडु और केरल के तटीय इलाकों से अगले 36 घंटे में बड़े तूफान (फानी) के टकराने की चेतावनी दी गई है. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के मुताबिक बंगाल की खाड़ी के पास हवा के कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. यही तूफान में परिवर्तित होकर देश के दक्षिणी राज्यों में उथल-पुथल मचा सकता है.

आईएमडी की मानें तो यह तूफान तमिलनाडु के तटीय इलाकों से 30 अप्रैल को टकरा सकता है. इससे तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक के कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. तूफान की वज़ह से होने वाली आंधी-बारिश की स्थिति 29 अप्रैल से बनना शुरू हो सकती है. फिर यह 30 अप्रैल काे तेज होकर अगले दिन एक मई को नियंत्रित होने की संभावना है.

विभाग के मुताबिक प्रभावित इलाकों में तूफान की वज़ह से 30 से लेकर 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ़्तार से हवाएं चल सकती हैं. इसके चलते मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे समुद्र में ज़्यादा दूर तक न जाएं. नदी किनारे बसे शहरों-गांवों के लोगों को भी मशविरा दिया गया है कि वे नदियों में न जाएं. तूफान की वज़ह से नदियों के पानी का स्तर बढ़ सकता है.

श्रीलंका के तटीय इलाकों में भी इस तूफान का असर पड़ने की संभावना जताई गई है. इस चेतावनी के चलते सभी राज्याें के तटवर्ती इलाकों में राहत और बचाव के पूर्व इंतज़ाम किए जा रहे हैं. ऐहतियाती क़दम भी उठाए जा रहे हैं.