विपक्षी नेताओं द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधे हमलों का सिलसिला जारी है. ऐसे ही समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने मंगलवार को कहा कि नरेंद्र ‘मोदी पर 72 घंटे का नहीं 72 साल का प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.’

ख़बरों के मुताबिक अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ‘विकास पूछ रहा है... क्या आपने (मतदाताओं ने) प्रधान जी (नरेंद्र मोदी) का शर्मनाक भाषण सुना है? देश के 125 करोड़ लोगों का भरोसा खो देने के बाद वे अब अनैतिक तौर-तरीकों पर भरोसा कर रहे हैं. यह उनकी काले धन वाली मानसिकता को प्रदर्शित करता है. उन पर 72 घंटे का नहीं बल्कि 72 सालों का प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.’

ग़ाैरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में पश्चिम बंगाल की चुनावी सभा में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चेतावनी देते हुए कहा था, ‘दीदी, दिल्ली दूर है. दीदी, चुनाव नतीज़ों के बाद आपके विधायक तक आपको छोड़ने वाले हैं. आपके 40 विधायक मेरे संपर्क में हैं. राज्य में एक बार भाजपा जीती ताे सभी विधायक आपको छोड़कर हमारे साथ आ जाएंगे. आपकी ज़मीन खिसक रही है.’

ध्यान रखने की बात यह भी है कि चुनाव प्रचार के दौरान कई नेताओं पर उनके आपत्तिजनक भाषणों-बयानों के लिए निर्वाचन आयोग ने 72 घंटे का प्रतिबंध लगाया था. इनमें समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान भी शामिल थे.