‘प्रज्ञा ठाकुर जितना ज्यादा बोलें, उतना ही अच्छा रहेगा.’  

— दिग्विजय सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

दिग्विजय सिंह ने यह बात चुनाव आयोग द्वारा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर को 72 घंटे तक चुनाव प्रचार करने से रोके जाने को लेकर कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘उन्होंने मुझ पर टिप्पणी करते हुए मुझे आतंकवादी बताया था. अगर वे इसका प्रमाण भी पेश करतीं तो मुझे और खुशी होती.’ दिग्विजय सिंह का यह भी कहना था, ‘मेरे खिलाफ मेरा प्रतिद्वंद्वी कुछ भी कहे पर मैं उसके खिलाफ कुछ नहीं बोलता.’ लोकसभा के इस चुनाव में मध्य प्रदेश की भोपाल संसदीय सीट पर प्रज्ञा ठाकुर और दिग्विजय सिंह के बीच मुकाबला है.

‘अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर सपा और भाजपा का एजेंडा एक समान है.’  

— अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष

अखिलेश यादव ने यह बात अयोध्या में पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘दोनों ही पार्टियां संविधान के दायरे में शांतिपूर्ण तरीके से राम मंदिर का निर्माण चाहती हैं.’ इसके साथ ही उन्होंने भाजपा पर राम मंदिर को लेकर लोगों को ‘छलने’ का आरोप भी लगाया. उनका यह भी कहना था, ‘लोकसभा के इस चुनाव में अगर केंद्र में सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन की सरकार बनी तो अयोध्या को विश्वस्तरीय नगरी के रूप में विकसित किया जाएगा.’


‘सर्जिकल स्ट्राइक करना कोई वीडियो गेम खेलना नहीं है.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात राजस्थान के सीकर में एक रैली संबोधित करने के दौरान कांग्रेस पर तंज कसते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘भाजपा के कार्यकाल में हुई सर्जिकल स्ट्राइक की कांग्रेस ने पहले उपेक्षा की, फिर विरोध किया. और अब इस पर वो मीटू-मीटू खेल रही है.’ इसके साथ ही सवालिया लहजे में नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा, ‘अगर कांग्रेस के शासन में वाकई ऐसी कार्रवाई हुई थी तो आतंकवादियों और आतंकी संगठनों ने उस पर कोई प्रतिक्रिया क्यों नहीं जताई.’ इससे पहले इसी गुरुवार कांग्रेस ने मनमोहन सिंह की अगुवाई वाली सरकार के दूसरे कार्यकाल में छह सर्जिकल स्ट्राइक होने का दावा किया था.


‘अगर येचुरी को रामायण से परेशानी है तो उन्हें अपने नाम से सीताराम हटा लेना चाहिए.’  

— संजय राउत, शिवसेना के नेता

संजय राउत का यह बयान मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेता सीताराम येचुरी के एक बयान पर पलटवार करते हुए आया है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘अगर उन्हें रामायण-महाभारत में हिंसा दिखती है तो कल वे यह भी कहेंगे कि पाकिस्तान से लड़ने वाले जवान हिंसा कर रहे हैं.’ संजय राउत के मुताबिक, ‘येचुरी की विचारधारा का एकमात्र उद्देश्य हिंदुओं पर हमला करके खुद को धर्मनिरपेक्ष साबित करना है.’ इससे पहले सीताराम येचुरी ने ‘रामायण और महाभारत’ जैसे महाकाव्यों को हिंसा की घटनाओं से भरा हुआ बताया था.


‘मुझे अब तक भारत के प्रति अपना प्यार साबित करने की जरूरत नहीं पड़ी है.’  

— अक्षय कुमार, फिल्म अभिनेता

अक्षय कुमार ने यह बात अपनी नागरिकता को लेकर उठ रहे विवाद को शांत करने की कोशिश में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘इस मुद्दे को लेकर बेवजह फैलाई जा रही नकारात्मकता को मैं समझ नहीं पा रहा हूं. मैंने कभी इससे इनकार नहीं किया कि मेरे पास कनाडा का पासपोर्ट है. लेकिन यह भी उतना ही सच है कि पिछले सात सालों से मैं वहां नहीं गया हूं.’ इससे पहले अक्षय कुमार ने बीते दिनों प्रधानमंत्री का गैर राजनीतिक इंटरव्यू किया था. उसके बाद उन्होंने लोगों से वोट करने की अपील भी की थी. हालांकि उनके खुद वोट न डालने के बाद यह विवाद उठा है.