लोकसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) को झटके लगने जारी हैं. सोमवार को राजधानी के बिजवासन इलाके से पार्टी विधायक देवेंद्र सहरावत भाजपा में शामिल हो गए. एक सप्ताह से भी कम समय में आप से भाजपा में शामिल होने वाले वे दूसरे विधायक हैं. देवेंद्र सहरावत को कुछ महीने पहले आप ने अपनी प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया था. पार्टी ने उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया था.

इससे कुछ ही दिन पहले आप के एक और विधायक अनिल वाजपेयी भी भाजपा में शामिल हो गए थे. उन्होंने आप के टिकट पर दिल्ली की गांधीनगर सीट से विधानसभा चुनाव जीता था. इससे पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता विजय गोयल का बयान आया था कि पार्टी नेतृत्व से असंतुष्ट आप के 14 विधायक उनके संपर्क में हैं. इसके बाद आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था. उन्होंने आरोप लगाया था कि नरेंद्र मोदी विधायक खरीदकर दिल्ली में सरकार बनाना चाहते हैं. पार्टी के एक और नेता मनीष सिसोदिया ने तो यह तक दावा किया था कि उनके विधायकों को 10-10 करोड़ रु की पेशकश की जा रही है.