रिलायंस समूह (अनिल धीरूबाई अंबानी ग्रुप) ने अपने मुखिया अनिल अंबानी के खिलाफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बयानों को खारिज किया है. एक बयान में समूह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष अनिल अंबानी के खिलाफ दुष्प्रचार और दुर्भावना से प्रेरित झूठ को जारी रखे हुए हैं.

राहुल गांधी, अनिल अंबानी को क्रोनी कैपिटलिस्ट यानी राजनीतिक साठगांठ से काम करने वाला पूंजीपति कहते रहे हैं. कांग्रेस अध्यक्ष ने रफाल सौदे के तहत उन्हें मिले ठेके पर भी सवाल उठाए हैं. इस पर रिलायंस समूह ने कहा कि अनिल अंबानी की कंपनियों को पिछली यानी यूपीए सरकार के दौर में एक लाख करोड़ रुपये से अधिक के ठेके मिले थे. समूह ने सवाल किया है कि क्या वह सरकार बेईमान कारोबारियों की मदद कर रही थी.