प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की खुलकर तारीफ़ की. उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ‘नवीन बाबू ने (फानी तूफान से निपटने के लिए) बहुत बढ़िया योजना बनाई थी. उनकी तैयारी ज़बर्दस्त थी.

नवीन पटनायक के साथ ओडिशा के तूफान प्रभावित इलाकाें का हवाई सर्वे करने के बाद प्रधानमंत्री मीडिया से बातचीत कर रहे थे. उस समय उनके साथ ओडिशा के मुख्यमंत्री भी थे. नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘चुनाव की व्यस्तता के बीच भी चक्रवाती तूफान से पहले निपटने को हर किसी ने तरज़ीह दी. मैं राज्य सरकार और उनके अधिकारियों को बधाई देता हूं कि उन्होंने बड़ी तत्परता के साथ तटीय इलाकों से लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया. उन्होंने जिस तरह से केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम किया वह सराहनीय है.’

ग़ौरतलब है कि बीते सोमवार को फानी तूफान लगभग 250 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ओडिशा के समुद्र तट से टकराया था. बीते दो दशक में आया यह सबसे भीषण तूफान था. लेकिन राज्य सरकार ने इसके आने से पहले ही लगभग 12 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया था. इससे ज़्यादा लोगों की मौत नहीं हो सकी. अब तक इस तूफान से 34 लोगों के मरने की जानकारी ही सामने आई है. जबकि तूफान की तीव्रता इतनी थी कि ज़रा सी लापरवाही से भी यह हज़ारों लोगों की जान ले सकता था.

बहरहाल, प्रधानमंत्री ने तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ मिलकर हालात की समीक्षा की. साथ ही राज्य को केंद्रीय मदद के तौर पर 1,000 करोड़ रुपए और जारी करने की घोषणा भी की. इससे पहले भी केंद्र सरकार की ओर से ओडिशा के लिए 380 करोड़ रुपए जारी किए जा चुके हैं. उधर, इस तूफान के बारे में पल-पल सटीक जानकारी देने के लिए संयुक्त राष्ट्र आपदा प्रबंधन एजेंसी ने भारतीय मौसम विभाग की भी तारीफ़ की है.