‘फानी तूफान से बचने के लिए नवीन बाबू ने बहुत ही बढ़िया योजना बनाई थी.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात ओडिशा के तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘चुनावी व्यस्तता के बीच नवीन पटनायक की अगुवाई वाली सरकार ने चक्रवाती तूफान से निपटने को प्राथमिकता दी. बड़ी ही तत्परता के साथ तटीय इलाकों से लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया. इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं.’ प्रधानमंत्री ने यह भी कहा, ‘यह तूफान इतना खतरनाक था कि जरा सी लापरवाही से सैकड़ों जानें जा सकती थीं.

‘सपा-बसपा गठबंधन वाले लोग पाकिस्तानी हैं.’  

— वरुण गांधी, भारतीय जनता पार्टी के नेता

वरुण गांधी ने यह बात उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘इस गठबंधन के लोगों ने रामभक्तों पर गोलियां चलवाई थीं. यह बात हम भूल नहीं सकते कि उस घटना में 500 लोग मारे गए थे.’ वरुण गांधी ने आगे कहा, ‘सुल्तानपुर सीट से मेरी मां चुनाव लड़ रही हैं. वे मानवता में यकीन रखती हैं. बीते 35 साल में उनपर कोई दाग नहीं लगा है. लेकिन आज मैं अपनी मां के लिए नहीं बल्कि भारत माता के लिए आपसे मिलने आया हूं.’


‘क्या देश में दो चुनाव आचार संहिताएं हैं?’  

— अरुण जेटली, केंद्रीय वित्त मंत्री

अरुण जेटली का यह बयान प्रधानमंत्री के एक बयान के बचाव में तो कांग्रेस पर निशाना साधते हुए आया है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘ईमानदार प्रधानमंत्री को कांग्रेस के नेता ‘चोर’ बताते हैं. लेकिन उनका ऐसा करना आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है. दूसरी तरफ जब नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री (राजीव गांधी) को भ्रष्ट कह दिया तो कांग्रेस इसे आचार संहिता का उल्लंघन बता रही है.’ इससे पहले इसी रविवार मोदी ने राजीव गांधी का नाम लिए बगैर उन्हें ‘भ्रष्ट नंबर- एक’ बताया था.


‘पिछले चुनाव में भाजपा ने जिस 56 इंची सीने वाले बॉक्सर को रिंग में उतारा था उसने अपने कोच को ही मुक्का मार दिया.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात एक चुनावी रैली में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के बहाने नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘भाजपा ने इस बॉक्सर (नरेंद्र मोदी) को बेरोजगारी, किसानों की समस्या हल करने और लोगों के खातों में 15 लाख रुपये जमा कराने के लिए बॉक्सिंग रिंग में उतारा था. लेकिन वह उनसे लड़ने के बजाय नितिन गडकरी, अरुण जेटली जैसे अपनी ही पार्टी के नेताओं को मुक्के मारता रहा.’ राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘मोदी ने नोटबंदी और जीएसटी के जरिये व्यापारियों और आम आदमी को भी मुक्का मारा है.’


‘एक्सपायरी पीएम के साथ मैं मंच साझा नहीं करना चाहती.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात चक्रवाती तूफान फानी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ टेलीफोन पर बात न करने को लेकर अपनी सफाई में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘नरेंद्र मोदी का कार्यकाल खत्म होने वाला है. इसलिए मैंने सोचा कि केंद्र में नई सरकार के गठन और नए प्रधानमंत्री के साथ ही मैं इस मुद्दे पर बातचीत करूंगी.’ इससे पहले सोमवार को ही एक रैली में नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर फानी तूफान को लेकर बातचीत न करने के आरोप लगाए थे.


‘राहुल गांधी अमेठी में बूथ कैप्चरिंग करवा रहे हैं.’  

— स्मृति ईरानी, भारतीय जनता पार्टी की नेता

स्मृति ईरानी ने यह बात एक ट्वीट के जरिये एक वृद्ध महिला मतदाता का वीडियो शेयर करते हुए कही. इसी ट्वीट के जरिये स्मृति ईरानी ने इस मुद्दे पर चुनाव आयोग से संज्ञान लेने और सावधानी बरतने की अपील भी की. इस वीडियो में मतदान करने वाली उस वृद्ध महिला ने कुछ लोगों पर जबरदस्ती अपना वोट कांग्रेस को दिलवाने के आरोप लगाए थे. उस महिला का यह भी कहना था कि वह भाजपा को वोट देना चाहती थी.