भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने ‘जय श्रीराम’ कहने को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है. खबरों के मुताबिक पश्चिम बंगाल के घाटाल में एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा, ‘पिछले तीन दिनों से मैं देख रहा हूं कि पश्चिम बंगाल में जय श्रीराम कहने वालों से ममता बनर्जी को परेशानी सी हो गई है. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि अगर जय श्रीराम भारत में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बोला जाएगा?’

इसके साथ ही भाजपा अध्यक्ष ने यह भी कहा, ‘भाजपा की रैलियां रुकवाने के लिए ममता दीदी खूब जोर लगा रही हैं. इसे लेकर वे चाहे कुछ भी कर लें, जितना मर्जी झूठ बोल लें, लेकिन 23 मई को इस राज्य में भाजपा को 23 संसदीय सीटें जीतने से रोक नहीं पाएंगी.’ उन्होंने आगे कहा, ‘केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की सरकार बनते ही सबसे पहले नागरिकता संशोधन विधेयक लाया जाएगा. इससे देश के घुसपैठियों को बाहर निकाला जाएगा.’

अमित शाह ने ये बातें ऐसे वक्त पर कही हैं जब हाल ही में ममता बनर्जी के एक काफिले के सामने कुछ लोगों ने जय श्री राम के नारे लगाए थे. उसे मामले में कथित तौर पर तीन लोगों को हिरासत में भी ले लिया गया था. वहीं इससे पहले इसी सोमवार को एक चुनावी रैली में ममता बनर्जी ने ‘राम’ के बहाने भाजपा पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि भाजपा के लोगों ने राम को अपना एजेंट बना रखा है. साथ ही सवालिया लहजे में उन्होंने यह भी कहा था कि क्या भाजपा ने अब तक राम के किसी मंदिर का निर्माण करवाया है.