छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बुधवार सुबह सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में दो संदिग्ध नक्सलियों के मारे जाने की ख़बर है. समाचार एजेंसी पीटीआई के हवाले से आई ख़बरों के मुताबिक यह मुठभेड़ सुबह पांच बजे के क़रीब गोंडेरास के जंगलों में हुई है.

हालांकि छत्तीसगढ़ में नक्सलविरोधी अभियानों के डीआईजी (उपमहानिरीक्षक) सुंदरराज पी ने सिर्फ़ एक महिला नक्सली का शव मिलने की ही पुष्टि की है. उन्होंने कहा, ‘मुठभेड़ में कुछ और नक्सलियों के मारे जाने की भी संभावना है. लेकिन पुलिस ने अब तक शव एक ही बरामद किया है. तलाशी अभियान जारी है.’ वहीं दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से एक इंसास राइफल, एक 12 बोर की बंदूक, गोलियां आदि भी बरामद हुई हैं. जबकि मुठभेड़ में शामिल सुरक्षा बलों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है.

ANI@ANI

Dantewada: Bodies of 2 Naxals recovered following an exchange of fire b/w Naxals & joint team of DRG&STF in Gonderas jungle in Aranpur police station area around 5 am today. One INSAS rifle&one 12 Bore weapon with ammunition & other incriminating materials recovered.#Chhattisgarh

पल्लव ने बताया कि मुठभेड़ में 30 महिला कमांडो ने भी हिस्सा लिया था. इनमें ज़्यादातर वे महिलाएं थीं जो पहले नक्सली संगठनों का हिस्सा थीं लेकिन अब आत्मसमर्पण कर चुकी हैं. हथियार डाल चुके पुरुष नक्सलियों की पत्नियां भी इनमें शामिल थीं. ग़ौरतलब है कि नक्सलियों ने अभी हाल ही में महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में सुरक्षाबलों के एक वाहन को बम धमाके से उड़ा दिया था. इस घटना में 15 सुरक्षाकर्मी मारे गए थे. इससे पहले दंतेवाड़ा में ही नौ अप्रैल को नक्सलियों ने भारतीय जनता पार्टी के विधायक भीमा मंडावी के काफ़िले पर हमला किया था. इस हमले में मंडावी और उनके सुरक्षा गार्डों सहित पांच लोगों की मोत हो गई थी.