राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज़ की

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को वह याचिका ख़ारिज़ कर दी जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाया गया था. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगाेई की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा, ‘इस याचिका में सुनवाई के लायक कुछ नहीं है.’ ख़बरों के मुताबिक अदालत ने याचिका दायर करने वालों पर ही सवाल उठा दिया. उनसे पूछा कि आख़िर ‘किस चीज ने आपको अदालत का दरवाज़ा खटखटाने के लिए प्रेरित किया? किसी एक कागज़ में अगर ये लिखा है कि वे (राहुल गांधी) ब्रिटेन के नागरिक हैं तो क्या इतने भर से यह मान लिया जाएगा कि उन्हें ब्रिटिश नागरिकता मिल चुकी है? हमें इस याचिका में सुनवाई के लायक कुछ भी नज़र नहीं आता. हम इसे ख़ारिज़ कर रहे हैं.’ (विस्तार से)

सुप्रीम कोर्ट ने बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव की अर्ज़ी ख़ारिज़ की

सुप्रीम कोर्ट ने बीएसएफ (सीमा सुरक्षा बल) के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव की अर्ज़ी गुरुवार को ख़ारिज़ कर दी. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा, ‘हमें इस याचिका पर विचार करने का कोई आधार नजर नहीं आता.’ तेज बहादुर यादव ने वाराणसी संसदीय सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर उनका पर्चा ख़ारिज़ किए जाने के चुनाव आयोग के फ़ैसले को अदालत में चुनौती दी थी. (विस्तार से)

तेल और गैस के बाद अमेरिका ने ईरान के धातु उद्योग पर भी प्रतिबंध लगाया

अमेरिका और ईरान के बीच रिश्तों में तनाव बढ़ता जा रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक आदेश जारी करते हुए अब ईरान के धातु उद्योग पर प्रतिबंध लगा दिया है. उन्होंने ये कदम ईरान के उस बयान के बाद उठाया है जिसमें कहा गया था कि वो परमाणु समझौते से जुड़ी कुछ शर्तों से बाहर निकल रहा है. (विस्तार से)

शेयर बाजार में सातवें दिन भी गिरावट, सेंसेक्स 230 अंक टूटा

शेयर बाजार में गिरावट का सिलसिला गुरुवार को सातवें दिन भी जारी रहा. अमेरिका तथा चीन के बीच बढ़ते व्यापार तनाव और आम चुनावों के चलते निवेशकों के थोड़ा सतर्क होने के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में गिरावट के साथ बीएसई सेंसेक्स 230 अंक गिरकर बंद हुआ. (विस्तार से)

दिल्ली की अदालत ने मानहानि मामले में कांग्रेस नेता जयराम रमेश को जमानत दी

दिल्ली की एक अदालत ने मानहानि के मामले में कांग्रेस नेता जयराम रमेश को गुरुवार को जमानत दे दी. पटियाला हाउस कोर्ट के एसीएमएम (एडीशल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट) समर विशाल ने जयराम रमेश को 20,000 रुपए का निजी मुचलका और इतनी ही ज़मानत राशि अदालत में जमा करने का आदेश दिया है. (विस्तार से)

गांधी परिवार ने आईएनएस विराट को ‘निजी टैक्सी’ की तरह इस्तेमाल किया : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरोप लगाया है कि ‘गांधी परिवार ने युद्धपोत ईएनएस विराट को ‘निजी टैक्सी’ की तरह इस्तेमाल किया. यह उस समय की बात है जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे. दिल्ली में अपनी चुनावी रैली में बुधवार देर शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक निजी टैक्सी की तरह करके इसका अपमान किया गया.आईएनएस विराट को हमारी समुद्री सीमा की रक्षा के लिए तैनात किया गया था. (विस्तार से)

‘मोदी जी, आपने तो वायुसेना के विमानों को निजी टैक्सी बना लिया है’

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भारतीय वायु सेना के विमानों को ‘निजी टैक्सी’ के तौर पर इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है. यह बात उन्होंने उस बयान पर पलटवार करते हुए कही है जिसमें नरेंद्र मोदी ने राजीव गांधी पर निजी छुट्टियों के लिए ‘आईएएनएस विराट’ का इस्तेमाल करने के आरोप लगाए थे. (विस्तार से)

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने जस्टिस बोस और एएस बोपन्ना की पदोन्नति पर केंद्र की आपत्ति खारिज की

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने जस्टिस अनिरुद्ध बोस और एएस बोपन्ना को शीर्ष अदालत में पदोन्नत किए जाने को लेकर सरकार की तरफ से लगाई आपत्तियों को खारिज किया है. साथ ही कॉलेजियम ने कहा है कि ‘वरिष्ठता पर मेरिट को तरजीह’ दी जानी चाहिए. इसी तर्क के आधार पर कॉलेजियम ने सरकार के पास एक बार फिर इन दोनों जजों के नामों को आगे बढ़ाते हुए इन पर विचार करने को कहा है. (विस्तार से)

ममता दीदी, मैं आपकाे दीदी कहता हूं, आपका थप्पड़ भी मेरे लिए आशीर्वाद होगा : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच जारी आरोप-प्रत्यारोप और तीखी बयानबाज़ी की अगली कड़ी. इस बार बारी नरेंद्र मोदी की, जिन्होंने बंगाल के ही पुरुलिया में चुनावी सभा के दौरान कहा, ‘मुझे बताया गया है कि दीदी (ममता बनर्जी) ने कहा है कि वे मोदी को थप्पड़ मारना चाहती हैं. ममता दीदी, मैं आपको दीदी कहता हूं. आपका थप्पड़ भी मेरे लिए आशीर्वाद होगा.’ (विस्तार से)

सुप्रीम कोर्ट ने केरल स्थित पांच बड़ी रिहायशी इमारतों को गिराने का आदेश दिया

सुप्रीम कोर्ट ने केरल के एर्नाकुलम जिले में स्थित पांच बड़ी रिहायशी इमारतों को गिराने का आदेश दिया है. इन अपार्टमेंट कॉम्प्लेक्सों को लेकर आरोप है कि इनके निर्माण में तटीय विनियमन क्षेत्र (सीआरजेड) से जुड़े नियमों का उल्लंघन किया गया है. बुधवार को इस मामले में सुनवाई करते हुए जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस नवीन सिन्हा की पीठ ने इन्हें गिराने का आदेश दे दिया. (विस्तार से)

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.