सुप्रीम कोर्ट ने रफाल विमान सौदे को लेकर ​दिए अपने ही फैसले के खिलाफ दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रख लिया है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. शुक्रवार को हुई सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष के वकील प्रशांत भूषण ने कहा कि इस सौदे में प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) समानांतर बातचीत में संलिप्त था. उन्होंने इस मामले में एफआईआर दर्ज करवाकर आपराधिक जांच कराने की मांग की.

वहीं, सरकार की ओर से अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा, ‘रफाल लड़ाकू विमान किसी तरह के श्रृंगार का सामान नहीं बल्कि, राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा हुआ विषय है.’ उन्होंने आगे कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा का सवाल होने की वजह से दुनिया की कोई अदालत याचिकाकर्ताओं द्वारा दिए तर्कों के आधार पर रक्षा सौदे की जांच नहीं कराएगी.

क्रिस ह्यूज ने फेसबुक को लोकतंत्र और अर्थव्यवस्था के लिए खतरा बताया

फेसबुक के सह-संस्थापक क्रिस ह्यूज ने इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को लोकतंत्र और अर्थव्यवस्था के लिए खतरा बताया है. 10 साल पहले उन्होंने कंपनी से खुद को अलग कर लिया था. अमर उजाला की खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘फेसबुक को बढ़ावा देने के लिए उपभोक्ताओं की सुरक्षा के साथ समझौता भी किया गया. डेटा शेयरिंग, नफरत फैलाने और गलत जानकारी के कारण इस पर दुनिया भर में जांच चल रही है.’ ह्यूज ने आगे कहा, ‘जुकरबर्ग जरूरत से अधिक ताकतवर हो चुके हैं. उनकी कंपनी या तो प्रतियोगी कंपनी को खरीद लेती है अथवा उसकी नकल कर लेती है. इसकी वजह से निवेशक भी प्रतिद्वंदी कंपनी में पैसा नहीं लगाते हैं. उन्हें मालूम होता है कि ऐसी कंपनियां अधिक दिन तक नहीं टिकेंगी.’

एतिहाद एयरवेज ने जेट एयरवेज के लिए बोली लगाई

एतिहाद एयरवेज ने शुक्रवार को जेट एयरवेज के लिए बोली लगाई है. वित्तीय संकट से जूझ रही इस एयरलाइन में एतिहाद की पहले से 24 फीसदी हिस्सेदारी है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक एतिहाद एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा, ‘कंपनी जेट को जिंदा करके कॉम्पिटिटिव एयरलाइन कंपनी बनाना चाहती है.’ बताया जाता है कि कंपनी बीते 15 महीनों से भारत के अहम स्टेकहोल्डर्स से मिलकर जेट में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने को लेकर बातचीत कर रही थी. वहीं, इस बोली प्रक्रिया की जिम्मेदारी संभाल रही एसबीआई कैप का कहना है कि एतिहाद की सीलबंद बोली की जांच-परख के लिए इसे कर्जदाता बैंकों के पास जमा किया जाएगा.

नरेंद्र मोदी अगर पिछड़े होते तो आरएसएस उन्हें कभी प्रधानमंत्री नहीं बनाता : मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जाति को लेकर एक बार फिर हमला किया है. हिन्दुस्तान में प्रकाशित खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, नरेंद्र मोदी अगर पिछड़े होते तो आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) उन्हें कभी प्रधानमंत्री नहीं बनाता. वैसे भी कल्याण सिंह जैसे (नेता) का आरएसएस ने क्या बुरा हाल किया यह देश जानता है.’ मायावती ने सपा-बसपा गठबंधन को जातिवादी करार दिए जाने पर भी सख्त नाराजगी जाहिर की. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी का यह आरोप बहुत ही अपरिपक्व है. मायावती ने कहा, ‘जातिवाद के अभिशाप से पीड़ित लोग जातिवादी कैसे हो सकते हैं.’

तेजी से घटते भूजल और पर्यावरण संबंधी मसले पर संवेदनशीलता की कमी गंभीर चिंता का विषय : एनजीटी

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने भूजल संरक्षण नीति पर लापरवाही को लेकर पर्यावरण मंत्रालय को फटकार लगाई है. दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर के मुताबिक प्राधिकरण ने कहा कि तेजी से घटते भूजल और पर्यावरण संबंधी मसले पर संवेदनशीलता की कमी गंभीर चिंता का विषय है. एनजीटी ने कहा, ‘मंत्रालय अपनी ड्यूटी निभाने में विफल रहा है और इसके लिए उसने कोई सफाई भी नहीं दी. कोई हलफनामा दायर नहीं किया.’ बताया जाता है कि मंत्रालय को भूजल संरक्षण नीति जारी करने को लेकर अपनी रिपोर्ट एनजीटी को सौंपनी थी. लेकिन वह ऐसा नहीं कर पाया. अब इसके लिए प्राधिकरण ने मंत्रालय को 30 जून तक का वक्त दिया है.

एयर इंडिया ने आखिरी वक्त में टिकट लेने वाले यात्रियों को किराये पर भारी छूट देने का एलान किया

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने आखिरी वक्त में टिकट लेने वाले यात्रियों को किराये पर भारी छूट देने का एलान किया है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक उड़ान के लिए तय वक्त से तीन घंटे के भीतर टिकट लेने वाले यात्रियों को 40 फीसदी तक छूट दी जाएगी. हालांकि, यह योजना केवल घरेलू विमानों के लिए लागू की गई है. बताया जाता है कि इस एलान के बाद कंपनी के पैसेंजर लोड फैक्टर (पीएलएफ) में सुधार हो सकता है. एयर इंडिया अन्य कंपनियों के मुकाबले सीट भरने में सबसे निचले पायदान पर है. बीते मार्च में कंपनी के विमानों की केवल 80.8 फीसदी सीटें ही भर पाई थीं. वहीं, स्पाइसजेट के लिए यह आंकड़ा सबसे अधिक 93 फीसदी था.