अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया की ओर से हाल में किया गया मिसाइल परीक्षण ‘विश्वासघात’ नहीं है. शुक्रवार को एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा, ‘वे कम दूरी की (मिसाइल) थीं और मैं नहीं समझता कि यह विश्वासघात है.’ गौरतलब है कि गुरुवार को उत्तर कोरिया ने कम दूरी की दो मिसाइलों का परीक्षण किया था. नवंबर, 2017 के बाद यह उसका पहला मिसाइल का परीक्षण था.

पीटीआई के मुताबिक इसे लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनके उत्तर कोरिया के नेता किम जांग उन के साथ अच्छे संबंध हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति के मुताबिक उत्तर कोरिया के नेता में उनका विश्वास किसी अन्य मुद्दे पर खत्म हो सकता है, लेकिन अभी बिल्कुल नहीं. उन्होंने कहा, ‘मेरा मतलब है कि इसकी संभावना है, लेकिन फिलहाल ऐसा नहीं है.’

बता दें कि किम जोंग उन ने पिछले साल ट्रंप के साथ पहली मुलाकात से पहले लंबी दूरी की मिसाइलों का परीक्षण नहीं करने का एलान किया था. इसके बाद जून में सिंगापुर में ट्रंप और किम के बीच पहली शिखर वार्ता हुई थी. लेकिन इस साल फरवरी में दोनों नेताओं के बीच हनोई में हुई दूसरी वार्ता बिना नतीजे के समाप्त हो गई थी. तब से दोनों देशों के बीच तनाव की कई खबरें आई हैं.