स्पाइस जेट की बेंगलुरु से नई दिल्ली आ रही उड़ान के 153 यात्री क़रीब आठ घंटे तक नागपुर में फंसे रहे. ऐसा इसलिए क्योंकि शुक्रवार-शनिवार की दरम्यानी रात 1.30 बजे इस उड़ान को नागपुर में इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी थी.

ख़बरों के मुताबिक स्पाइस जेट की एसजी-8720 को बेंगलुरु से शुक्रवार रात 10 रवाना होना था. लेकिन वह डेढ़ घंटे की देरी से रात 11.30 पर रवाना हुई. इस उड़ान को रात 12.45 पर दिल्ली पहुंचना था. लेकिन वहां पहुंचने के बज़ाय इसे आपात स्थिति में नागपुर में उतारा गया. इस बारे में एयरलाइंस की ओर से बताया गया कि तकनीकी ख़राबी की वज़ह से उड़ान को नागपुर में उतारना पड़ा. एयरलाइंस प्रवक्ता ने हालांकि इस ख़बर का खंडन किया कि विमान को आपात स्थिति में उतारा गया.

अलबत्ता इस उड़ान में सफर कर रहे लोगों ने एयरलाइंस पर उन्हें ग़ुमराह करने का आरोप ज़रूर लगाया है. इन्हीं यात्रियों में से एक सुरभि सरावगी ने बताया, ‘हमें पहले बताया गया कि मुंबई से एक विमान इंजीनियरों को लेकर आ रहा है. फिर कहा गया कि बेंगलुरु को विमान आ रहा है. लेकिन सुबह तक कोई विमान नहीं आया.’ बताया जाता है कि इस दौरान सुबह 5.30 तक सभी यात्रियों को विमान में ही बिठाकर रखा गया. इस दौरान उन्हें खाना वग़ैरह भी नहीं दिया गया.

ख़बरों की मानें तो यात्रियों को सुबह 5.30 बजे बताया गया कि इंजीनियरों ने विमान में आई ख़राबी दुरुस्त करने से मना कर दिया है. इसके बाद यात्रियों को विमान से उतारकर हवाई अड्‌डा लाउंज तक ले जाया गया. वहां उन्हें हवाई अड्‌डा प्राधिकरण की ओर से नाश्ता आदि दिया गया. बाद में नई दिल्ली से एक विशेष विमान नागपुर भेजा गया. उसी से नागपुर में फंसे यात्रियों को दिल्ली पहुंचाया गया.