अपने बयानों और जुमलों से सुर्खियों में रहने वाले कांग्रेस के नेता और पार्टी के स्टार प्रचारकों में से एक नवजोत सिंह सिद्धू का चुनावी मौसम के बीच ही गला खराब हो गया है. खबरों के मुताबिक यह जानकारी उनके कार्यालय की तरफ से एक ट्वीट के जरिये दी गई है. इसमें कहा गया है कि नवजोत सिंह सिद्धू की वोकल कॉर्ड (आवाज निकालने वाली मांसपेशियां) में तकलीफ शुरू हो गई है. डॉक्टरों ने उनकी शुरुआती जांच के बाद दवाइयों के जरिये उनका इलाज शुरू कर दिया है. साथ ही 48 घंटे के लिए उन्हें पूरा आराम करने यानी प्रचार से दूर रहने की सलाह भी दी है.

लोकसभा चुनाव के प्रचार कार्यक्रमों में नवजोत सिंह सिद्धू ने बीते 28 दिनों में 80 रैलियों में भाषण दिया है. डॉक्टरों ने उनके गले में आई इस दिक्कत के पीछे लगातार हुई रैलियों में दिए उनके भाषणों को जिम्मेदार बताया है. वहीं प्रचार कार्यक्रम के मुताबिक उन्हें इसी मंगलवार को बिहार के पटना साहिब तो इसके अगले दिन बुधवार को हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ में भी एक रैली में शामिल होना है. चुनाव प्रचार के आखिरी दौर में सिद्धू के गले में आई खराबी को कांग्रेस के लिए झटके के तौर पर देखा जा रहा हैं क्योंकि रैलियों में उन्हें देखने और सुनने के लिए बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा होते हैं.

भारतीय जनता पार्टी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने के बाद से ही सिद्धू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी अगुवाई वाली सरकार पर हमलावर रुख अपना रखा है. बीते दिनों प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा था कि मच्छर को कपड़े पहनाना और नरेंद्र मोदी से सच की उम्मीद करना संभव नहीं है. इसके अलावा बीते हफ्ते उन्होंने नरेंद्र मोदी को उस दुल्हन की तरह बताया था जो काम कम करती है लेकिन चूड़िया ज्यादा खनकाती है.