आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुखिया चंदा कोचर सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी के सामने पेश हुईं. उनके साथ उनके पति दीपक कोचर से भी ईडी ने पूछताछ की. दिल्ली में ईडी के सामने उनकी ये पहली पेशी थी.

पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि मामले के जांच अधिकारी को जांच आगे बढ़ाने के लिए दोनों की मदद की जरूरत है और अब धनशोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत इन लोगों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं. इससे पहले कोचर दंपति से जांच एजेंसी के मुंबई स्थित दफ्तर में भी पूछताछ हो चुकी है. इस मामले में सीबीआई ने भी उनसे पूछताछ की थी.

ये मामला आईसीआईसीआई बैंक द्वारा वीडियोकॉन को विवादित तरीके से 3,250 करोड़ का कर्ज देने से जुड़ा है. आरोप है कि कंपनी के मुखिया वेणुगोपाल धूत ने इस रकम का 10 फीसदी हिस्सा उन कंपनियों में निवेश किया जिन्हें दीपक कोचर चला रहे थे. इसमें से 2,810 करोड़ रुपये की रकम फंसा हुआ कर्ज यानी एनपीए घोषित हो चुकी है.