मध्य प्रदेश के इंदौर में इसी सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को उस समय थोड़ी असहज स्थिति का सामना करना पड़ा जब उनके रोड शो के दौरान कुछ लोगों ने ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाने शुरू कर दिए. लेकिन प्रियंका ने तुरंत ही स्थिति को उलट दिया. राजनीतिक परिपक्वता का परिचय देते हुए वे गाड़ी से उतरकर (नरेंद्र) मोदी समर्थकों के पास पहुंच गईं. उनसे हाथ मिलाया और उन्हें ‘ऑल द बेस्ट’ कहकर शुभकामना दी.

ख़बरों के मुताबिक प्रियंका गांधी वाड्रा का काफ़िला शहर के व्यस्त इलाके से गुजर रहा था. तभी किनारे खड़े कुछ प्रधानमंत्री समर्थकों ने ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाने शुरू कर दिए. इनमें अधिकांश युवक थे. उन्हें नारे लगाते देख प्रियंका गांधी अपनी टाटा सफारी गाड़ी से उतरीं. उन युवकों तक पहुंचीं. उनसे हाथ मिलाया और कहा, ‘आप अपनी जगह, मैं मेरी जगह. ऑल द बेस्ट.’ इससे प्रधानमंत्री समर्थक थोड़ी देर के लिए भौंचक रह गए. फिर वे सहज हुए और उनमें से एक ने प्रियंका की तस्वीरें भी उतारीं.

इस वाक़ये के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट भी किया. इसमें लिखा, ‘इसे कहते हैं देश की मिट्टी, देश की जनता और देश के कण-कण से प्यार. काश...मोदी भी देश को समझ पाते.’ इस रोड शो में प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री कमलनाथ और भूपेश बघेल भी थे. इससे पहले प्रियंका गांधी ने मध्य प्रदेश में ही रतलाम में चुनाव सभा को संबोधित किया. इसके बाद वहां भी वे अपना सुरक्षा घेरा तोड़कर बैरीकेड्स पार कर सीधे जनता के बीच जा पहुंची थीं.