भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह के कोलकाता में एक रोड शो के हिंसा की भेंट चढ़ जाने की खबर है. जानकारी के मुताबिक मंगलवार को अमित शाह का यह रोड शो मध्य कोलकाता के एस्प्लेनेड इलाके से शुरू होकर उत्तरी कोलकाता में स्वामी विवेकानंद भवन पर खत्म होना था. लेकिन रोड शो के दौरान कुछ लोगों ने उस वाहन पर डंडे फेंके जिस पर खुद भाजपा अध्यक्ष सवार थे. इस घटना के बाद भाजपा और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए.

बताया जा रहा है कि दोनों दलों ने पत्थरों के साथ लाठी-डंडों से भी एक-दूसरे पर हमला किया. इसके साथ ही टीएमसी कार्यकर्ताओं ने एक वाहन को आग भी लगा दी. बढ़ती हिंसा और आगजनी को नियंत्रित करने के लिए ऐसे में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. इस हिंसा में दोनों पार्टियों के समर्थकों सहित कुछ पत्रकारों को भी चोट आने की खबर है.

इस दौरान अमित शाह ने कहा है कि उन्हें इस बात का अफसोस है कि वे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तानाशाही रवैये के खिलाफ अपनी बात नहीं कह पाए. उन्होंने यह भी कहा है कि देश के 16 राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं लेकिन उनकी पार्टी ने विपक्षी दलों के साथ कभी ऐसा बर्ताव नहीं किया. शाह के मुताबिक पश्चिम बंगाल में इस बार बड़ा उलटफेर देखने को मिलेगा. ममता बनर्जी भाजपा को चाहे जितना प्रताड़ित करें, जनमत उनके खिलाफ जा रहा है.