प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा है कि लोकसभा के इस चुनाव में उनकी हार तय है. क्योंकि यह फैसला राज्य की जनता ने कर लिया है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल के लोगों ने ममता बनर्जी को प्यार और सम्मान दिया. लेकिन आज यहां के लोग उनके शासन से बुरी तरह त्रस्त हैं. खबरों के मुताबिक नरेंद्र मोदी ने यह बात पश्चिम बंगाल के मथुरापुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही.

इस मौके पर उन्होंने ममता बनर्जी पर खुद को जेल में डलवाने की धमकी देने के आरोप भी लगाए हैं. नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘उन्होंने यह धमकी आज सुबह दी थी.’ उन्होंने आगे कहा, ‘ममता बनर्जी ने बुधवार की शाम को भी एक धमकी दी थी. तब उन्होंने कहा था कि वे चाहें तो एक सेकेंड के अंदर दिल्ली में भारतीय जतना पार्टी (भाजपा) के कार्यालय और इसके नेताओं के घरों पर कब्जा कर सकती हैं.’

नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि ममता बनर्जी उन्हें भारत का प्रधानमंत्री नहीं मानतीं. यही वजह है कि वे लगातार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के समर्थन में खड़ी दिखाई देती हैं. मोदी के मुताबिक, ‘ममता बनर्जी ने आज पश्चिम बंगाल के बेटे-बेटियों के साथ छल कर रही हैं. युवाओं को जेल में डलवा रही हैं. लेकिन घुसपैठियों और गैर कानूनी तरीके से यहां रह रहे लोगों के साथ उनकी पूरी हमदर्दी है.’

इसके साथ ही इसी मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा को भी उन्होंने गलत बताया. साथ ही ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़े जाने की भी उन्होंने निंदा की. इससे पहले गुरुवार को ही उत्तर प्रदेश में एक रैली में नरेंद्र मोदी ने पंचधातु की ईश्वरचंद्र विद्यासागर की एक मूर्ति बनवाकर उसी जगह लगवाने की बात कही थी. हालांकि ममता बनर्जी ने उनके उस बयान पर पलटवार किया था. साथ ही कहा था कि पश्चिम बंगाल को भाजपा से विद्यासागर की मूर्ति लेने की जरूरत नहीं है.