महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले भाजपा नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर के विवादित बयान पर चुनाव आयोग ने संज्ञान लेते हुये मध्य प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है.

केंद्रीय चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रज्ञा ठाकुर के कथित बयान के बारे में मध्य प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी को शुक्रवार तक रिपोर्ट देने को कहा है. उन्होंने बताया कि सीईओ की रिपोर्ट के आधार पर आयोग यह फैसला करेगा कि इस बयान से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है या नहीं.

भोपाल से भाजपा की उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर ने गुरुवार को एक साक्षात्कार में नाथूराम गोडसे को देशभक्त बता कर राजनीतिक विवाद खड़ा कर दिया. प्रज्ञा सिंह ने गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर विवाद उत्पन्न होने के बाद इसे वापस लेकर माफी भी मांग ली. आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर प्रज्ञा ठाकुर को पहले भी तीन दिन के लिए चुनाव प्रचार से रोका जा चुका है.