‘नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त रहेंगे.’  

— साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, भारतीय जनता पार्टी की नेता

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने यह बात एक पत्रकार द्वारा पूछे गए सवाल पर प्रतिक्रिया देते हुए कही. इसके साथ ही उनका यह भी कहना था, ‘गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग पहले खुद के गिरेबां में झांककर देखें. इस बार के चुनाव में ऐसे लोगों को जवाब दे दिया जाएगा.’ हालांकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उनके इस बयान को गलत बताते हुए उससे किनारा भी कर लिया. इसके बाद प्रज्ञा ठाकुर ने भी कहा कि गोडसे के मुद्दे पर वे अपनी पार्टी के विचारों का समर्थन करती हैं.

‘प्रज्ञा ठाकुर के बयान से स्पष्ट है कि भाजपा के लोग गोडसे के वंशज हैं.’  

— रणदीप सिंह सुरजेवाला, कांग्रेस के प्रवक्ता

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यह बात एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने के दौरान प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर पलटवार करते हुए कही. इसी मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘प्रज्ञा ठाकुर के बयान से एक बार फिर देश की आत्मा छलनी हुई है. साथ ही भाजपा का हिंसक चेहरा इससे फिर बेनकाब हुआ है.’ रणदीप सिंह सुरजेवाला के मुताबिक देश के शहीदों और महान विभूतियों का अपमान करना भाजपा की संस्कृति बन गया है.


‘कांग्रेस को प्रधानमंत्री पद न मिला तो भी कोई आपत्ति नहीं होगी.’  

— गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

गुलाम नबी आजाद ने यह बात बिहार में पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान लोकसभा के इस चुनाव के बाद बनने वाले राजनीतिक परिदृश्य को लेकर कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘कांग्रेस का स्पष्ट मकसद राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को केंद्र की सत्ता में आने से रोकना है.’ इसके साथ उनका यह भी कहना था, ‘अगर सर्वसम्मति के साथ कांग्रेस को संभावित गठबंधन सरकार का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी दी जाती है तो कांग्रेस उसका निर्वहन करने को भी तैयार रहेगी.’


‘ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति दोबारा बनवाने के लिए पश्चिम बंगाल को भाजपा का पैसा नहीं चाहिए’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बयान पर पलटवार करते हुए कही. इसके साथ ही सवालिया लहजे में उन्होंने यह भी कहा, ‘भाजपा के लोग आज ईश्वरचंद्र विद्यासागर की नई मूर्ति बनवाने की बात कर रहे हैं. लेकिन उस मूर्ति को तोड़कर भाजपा ने बंगाल की 200 साल की जिस विरासत को नुकसान पहुंचाया है, क्या वे उस विरासत का लौटा सकते हैं.’ इससे पहले गुरुवार को ही नरेंद्र मोदी ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पंचधातु से बनी विद्यासागर की मूर्ति उसी जगह लगवाने की बात कही थी जहां उस मूर्ति को तोड़ा गया था.


‘जैसे ट्रैक्टर में डीजल डाला जाता है, वैसे ही न्याय योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था में ईंधन का काम करेगी.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात बिहार के पटना में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘देश की अर्थव्यवस्था में हम न्यूनतम आय गारंटी योजना (न्याय) रूपी डीजल डालेंगे. उसके बाद चाबी घुमाएंगे और हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था फिर से चालू हो जाएगी.’ इसके साथ ही उन्होंने फिर दोहराया कि ‘न्याय’ योजना गरीबी पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की तरह काम करेगी. इससे देश के पांच करोड़ गरीब परिवारों को लाभ मिलेगा.