अभिनेता से नेता बने कमल हासन लगातार ग़लत कारणों से सुर्ख़ियों में हैं. ख़बरों के मुताबिक तमिलनाडु के अरवाकुरुचि में उनकी चुनावी सभा के दौरान उन पर पत्थर, अंडे फेंके जाने का मामला सामने आया है.

बताया जाता है कि दो युवकों ने कमल हासन पर पत्थर, अंडे फेंके. उस वक़्त वे भाषण देकर मंच से नीचे उतर रहे थे. हालांकि उन्हें कमल हासन की पार्टी (मक्कल निधि मय्यम) के कार्यकर्ताओं ने तुरंत ही घेर लिया और उनकी धुनाई कर दी. इसी बीच पुलिस ने मामला संभाला और दोनों युवकों को भीड़ से बचाकर अपने साथ ले गई. इससे पहले तिरुपरनकुंद्रम में भी चुनावी सभा के दौरान कमल हासन पर चप्पलें फेंकी गई थीं. उनके ख़िलाफ़ नारेबाज़ी भी की गई थी. पुलिस ने इन आरोपितों को हिरासत में ले लिया है.

ग़ौरतलब है कि कमल हासन ने बीते रविवार को अरवाकुरुचि में ही कहा था, ‘आज़ाद भारत का पहला आतंकी हिंदू था- नाथूराम गोडसे, जिसने महात्मा गांधी की हत्या की. यह सब (आतंकवाद) वहीं से शुरू हुआ.’ हालांकि बाद में उन्होंने सफाई दी और कहा, ‘सभी धर्मों में आतंकी होते हैं.’ लेकिन उनके ख़िलाफ़ विरोध शांत नहीं हुआ. तमिलनाडु के मंत्री केटी राजेंद्र बालाजी ने तो यहां तक कह दिया कि उनकी (कमल हासन की) ‘ज़ुबान काट लेनी चाहिए.’ राज्य में कई जगहों पर कमल हासन के पुतले भी जलाए गए हैं.