गूगल ने मोबाइल फोन बाजार की दिग्गज कंपनी ह्वावे को बड़ा झटका दिया है. उसने इस चीनी कंपनी का एंड्रॉयड लाइसेंस रद्द कर दिया है. खबरों के मुताबिक इसके तहत गूगल ह्वावे को हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और तकनीकी सेवाओं का ट्रांसफर रोक देगा. गूगल के इस कदम के बाद ह्वावे को गूगल की सेवाएं मिलनी बंद हो जाएंगी. इसका मतलब है कि अब ह्वावे के स्मार्टफोन्स पर एंड्रॉयड, गूगल प्ले स्टोर एक्सेस, ऐप अपडेट्स, एड्रॉयड अपडेट्स एवं गूगल के अन्य आधिकारिक सॉफ्टवेयर की सेवाओं का फायदा नहीं उठाया जा सकेगा.

हालांकि, जो लोग पहले से ह्वावे का फोन इस्तेमाल कर रहे हैं उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है. गूगल के प्रवक्ता के अनुसार ह्वावे स्मार्टफोन यूजर्स बिना किसी समस्या के गूगल की सभी सेवाओं का इस्तेमाल कर सकेंगे. ह्वावे की ओर से फिलहाल इस मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ह्वावे को गूगल के इस कदम की भनक पहले से थी, इसी वजह से कंपनी ने दो महीने पहले ही अपना मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम तैयार करना शुरू कर दिया था.

ह्वावे दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी है. कंपनी की बिक्री का आधे से भी ज्यादा हिस्सा चीन के बाहर से आता है. कुछ समय पहले अमेरिकी सरकार ने ह्वावे को प्रतिबंधित कर दिया था. इसका मतलब ये है कि अमेरिकी कंपनियां सरकार की अनुमति के बिना उसके साथ कारोबार नहीं कर सकतीं.