लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व वाली बीजू जनता दल (बीजेडी) के वरिष्ठ नेता अमर पटनायक ने एक बड़ा बयान दिया है. खबरों के मुताबिक उन्होंने कहा है, ‘चुनावी नतीजे आने के बाद बीजेडी उस पार्टी या फिर गठबंधन को अपना समर्थन दे सकती है जिसकी केंद्र में सरकार बनेगी. चाहे वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) हो या फिर कांग्रेस के नेतृत्व वाला संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए).’ इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है, ‘हमारा समर्थन उसे होगा जो लंबे समय से चले आ रहे ओडिशा के अनसुलझे मुद्दों को हल करने की दिशा में काम करेगा.’

यहां गौर करने वाली एक बात यह भी है कि चुनावी नतीजों से पहले इसी मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए के घटक दलों के शीर्ष नेताओं को रात्रिभोज पर आमंत्रित किया है. इस भोज में बीजेडी के शीर्ष नेताओं को भी निमंत्रण भेजा गया है. इधर, इसी रविवार आखिरी चरण की वोटिंग के बाद जारी सभी एग्जिट पोल में बहुमत के साथ केंद्र की सत्ता में एनडीए की वापसी बताई गई है. ऐसे में राजनीतिक विश्लेषक यह कयास भी लगा रहे हैं कि चुनावी नतीजों के बाद बीजेडी भी एनडीए में शामिल हो सकती है.

इस बीच गैर भाजपा मोर्चा के गठन की कवायद में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की कोशिशें भी जारी हैं. इस सिलेसिले में बीते हफ्ते उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती, समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी. सोमवार को वे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भी मिले थे.

इसके अलावा इसी मंगलवार को विपक्षी दलों की भी एक बैठक होनी थी. लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों को देखते हुए अब इसे आगामी 24 मई तक के लिए टाल दिया गया है.