केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लोकसभा चुनाव की मतगणना और नतीजों की घोषणा के दौरान देश के कुछ हिस्सों में हिंसा का अंदेशा जताया है. इसके मद्देनजर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. खबरों के मुताबिक इस बीच केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों को उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार, त्रिपुरा जैसे राज्यों से कुछ संगठनों और नेताओं द्वारा गड़बड़ी और हिंसा फैलाने संबंधी सूचना भी मिली है. इसी को देखते हुए इस दौरान राज्यों से विशेष एहतियात बरतने के लिए कहा गया है.

इधर, बीते रविवार को सातवें और आखिरी चरण की वोटिंग के बाद कुछ जगहों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को बदले जाने की खबरें आई थीं. हालांकि चुनाव आयोग ने उन खबरों की ​विश्वसनीयता को सिरे से खारिज कर दिया था. लेकिन कई विपक्षी दलों ने उस पर सवाल उठाए थे. साथ ही उसे लेकर विवादित बयानबाजी भी की थी. वहीं इसी मंगलवार को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के प्रमुख ने ईवीएम से छेड़छाड़ होने की दशा में सड़कों पर खून बहने की धमकी दी थी. गृह मंत्रालय की तरफ से दिए गए नेताओं के ऐसे बयान भी अलर्ट का कारण हैं.