सुप्रीम कोर्ट में चार नए न्यायाधीशों की नियुक्ति की खबर को आज के कई अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस नियुक्ति को अपनी मंजूरी दी. इनमें न्यायाधीश अनिरुद्ध बोस, एएस बोपन्ना, बीआर गवई और सूर्यकांत शामिल हैं. बताया जाता है कि इनकी नियुक्ति के बाद शीर्ष अदालत में न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर 31 हो जाएगी. इसके अलावा लोकसभा चुनाव के नतीजे भी आज घोषित होने हैं. इससे जुड़ी खबरें भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. बताया जाता है कि एक विधानसभा के पांच बूथों पर ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों की मिलान की वजह से नतीजे घोषित करने में करीब पांच घंटे की देरी हो सकती है.

माउंट एवरेस्ट फतह करने के रास्ते में पर्वतारोहियों के लिए ट्रैफिक जाम जैसी स्थिति

माउंट एवरेस्ट फतह करने के रास्ते में पर्वतारोहियों को ट्रैफिक जाम जैसी स्थिति का सामना करना पड़ा है. नेपाल के हिमालयन टाइम्स की रिपोर्ट के हवाले से अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक बुधवार को दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर चढ़ाई करने वालों की संख्या 200 पहुंच गई. इसकी वजह से कई देशों के पर्वतारोही दो घंटे तक रास्ते में फंसे रहे. एवरेस्ट बेस कैंप में तैनात अधिकारी ज्ञानेंद्र श्रेष्ठ ने बताया, ‘साफ मौसम होने की सूचना के बाद गाइड सहित 200 से अधिक पर्वतारोही चोटी की ओर बढ़ने लगे लेकिन, अधिक संख्या होने की वजह से रास्ते में इनकी रफ्तार कम हो गई.’ बताया है कि इन पर्वतारोहियों में से कई ने एवरेस्ट फतह करने में सफलता हासिल की. हालांकि, इनकी सही संख्या बुधवार को सामने नहीं आ पाई.

निजी टीवी चैनलों पर प्रसार सामग्री को लेकर आदेश जारी

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे घोषित होने के एक दिन पहले सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने निजी सैटेलाइट टीवी चैनलों को आदेश जारी किया है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक इसमें सामग्री को लेकर तय दिशानिर्देश का पालन करने को कहा गया है. इसके तहत न्यूज चैनलों को खबरें और सामयिक घटनाओं को दिखाना है. वहीं, गैर-न्यूज चैनलों को खबरें न प्रसारित करने को कहा गया है. मंत्रालय के आदेश में इस बात का जिक्र किया गया है कि टीवी चैनल नियमों का सख्ती से पालन करें.

लोकतंत्र को खत्म करने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा : रामविलास पासवान

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) प्रमुख रामविलास पासवान ने रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के एक विवादित बयान के बाद अपने लोगों को तैयार रहने के लिए कहा है. दैनिक जागरण के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘लोकतंत्र को खत्म करने वालो को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. हमने ऐसे लोगों को जवाब देने के लिए तैयार रहने को कह दिया है. खून खराबा की बात करने वाले अराजकता की बात करते हैं, जो कतई उचित नहीं है.’ इससे पहले उपेंद्र कुशवाहा ने एग्जिट पोल्स के नतीजों को खारिज किया था. साथ ही, उन्होंने कहा था, ‘महागठबंधन के समर्थकों को नीचा दिखाने के लिए जानबूझकर एग्जिट पोल का सहारा लिया जा रहा है. लोगों में इतना आक्रोश है कि अगर कोई खूनखराबा होता है तो इसके जिम्मेदार नीतीश कुमार और केंद्र की सरकार होगी.’ रालोसपा प्रमुख ने आगे कहा कि यदि रिजल्ट (चुनावी) लूटने की घटना हुई तो सड़कों पर खून बहेगा.’

चीन के राजदूत लु जोहुई ने भारत के साथ विवाद को स्वाभाविक बताया

भारत में चीन के राजदूत लु जोहुई ने दोनों पड़ोसी देशों के बीच विवाद को स्वाभाविक बताया है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘इस तरह के विवाद बिलकुल उसी तरह हैं, जैसे किसी एक छत के नीचे दो भाइयों के बीच. दोनों देशों के बीच संबंध उस स्तर पहुंच गए हैं, जहां द्विपक्षीय संबंधों में स्थायित्व आ जाए.’ लु जोहुई ने भारत-चीन के बीच अच्छे संबंधों को दोनों देशों के लिए अहम बताया. उन्होंने आगे कहा, ‘अगले साल हम दोनों देश द्विपक्षीय संबंधों की 70वीं सालगिरह मना रहे हैं. अब हमारा प्रयास है कि भारत और चीन के संबंध स्वस्थ दिशा में बढ़ सकें.

अमेरिकी नागरिकता पाने में दूसरे पायदान पर भारतीय

भारतीय अमेरिका की नागरिकता पाने में दुनिया में दूसरे स्थान पर हैं. हिन्दुस्तान में प्रकाशित खबर के मुताबिक साल 2018 की पहली तिमाही में अमेरिका ने 5.44 लाख विदेशी लोगों को नागरिकता दी. इनमें 15 फीसदी से अधिक भारतीय हैं. इसकी जानकारी यूएस सिटिजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विस (यूएससीआईएस) ने दी है. अमेरिकी नागरिकता हासिल करने वाले शीर्ष देशों में भारत के अलावा मैक्सिको और चीन हैं. बताया जाता है कि अगले साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में मतदान के लिए वहां ग्रीन कार्ड वाले लोगों में नागरिकता लेने की होड़ लगी हुई है.