ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफ़ा दे सकती हैं. सूत्रों के हवाले से ‘द टाइम्स’ ने यह ख़बर दी है. अख़बार के मुताबिक थेरेसा मे के इस्तीफ़े के बाद सत्ताधारी कंज़रवेटिव पार्टी अपने नए नेता का चुनाव करेगी. दो चरण की इस प्रक्रिया में पार्टी के 1.25 लाख सदस्य हिस्सा लेंगे.

ख़बरों की मानें तो अपने उत्तराधिकारी का चुनाव होने तक थेरेसा मे कार्यवाहक प्रधानमंत्री के तौर पर काम करती रहेंगी. ग़ौरतलब है कि ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से बाहर होने (ब्रेक्ज़िट) के मसले पर थेरेसा मे काे संसद में लगातार गतिरोध का सामना करना पड़ रहा है. वे अब तक संसद से ब्रेक्ज़िट पर कोई सर्वसम्मत प्रस्ताव पारित नहीं करा पाई हैं. यहां तक कि उनके मंत्रिमंडल में भी अब विरोध के सुर सुनाई देने लगे हैं.

द गार्ज़ियन के मुताबिक प्रधानमंत्री जो नया ब्रेक्ज़िट प्लान लेकर आई उसका विरोध करते हुए बुधवार रात उनके मंत्रिमंडल की वरिष्ठ सदस्य एंड्रिया लीडसम ने इस्तीफ़ा दे दिया. बाद में लीडसम ने मीडिया से बातचीत में साफ कहा, ‘मुझे भरोसा नहीं कि प्रधानमंत्री की योजना ब्रेक्ज़िट पर हुए जनमत संग्रह के फ़ैसले के प्रति न्याय कर सकेगी.’ लीडसम संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमन्स की नेता भी हैं.

बताया जाता है कि लीडसम के इस्तीफ़े के बाद थेरेसा मे पर प्रधानमंत्री पद छोड़ने का दबाव बढ़ गया है. और उन्होंने संभवत: इसका फ़ैसला भी कर लिया है. ख़बरों की मानें तो अगले ब्रिटिश प्रधानमंत्री के दावेदारों में लीडसम भी शुमार हो सकती हैं. उनके साथ ब्रेक्ज़िट समर्थक बोरिस जॉनसन, डोमिनिक राब, पेनी माेरडॉन्ट, माइकल गोव और साजिद जाविद का नाम भी दावेदारों में शुमार किया जा रहा है.