इस लोक सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ऐतिहासिक प्रदर्शन करने की ओर आगे बढ़ रही है. चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक भाजपा अपने बलबूते पर 300 सीटें के आंकड़े तक पहुंच गई है. जबकि अब तक के रुझानों के अनुसार भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए 350 सीटों के आंकड़े तक जाता दिख रहा है.

भाजपा को अपने और देश के भी चुनावी इतिहास में पहली बार इतनी अधिक संख्या में सीटों पर जीत हासिल हो रही है. इससे पहले 2014 में उसे 282 सीटों पर जीत मिली थी. जबकि उस वक़्त एनडीए को 336 सीटें मिली थीं. इस ज़बर्दस्त जीत के बाद भाजपा नेतृत्व ने शुक्रवार शाम पार्टी संसदीय बोर्ड की दिल्ली में बैठक बुलाई है. इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित कर सकते हैं. संसदीय बोर्ड की बैठक में मतदाताओं के प्रति आभार प्रकट करने के साथ-साथ मोदी के नेतृत्व की सराहना करने संबंधी प्रस्ताव पारित किया जा सकता है.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पार्टी की इस जीत का पूरा श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मजबूत, दूरदर्शी’ और पार्टी प्रमुख अमित शाह के ‘गतिशील’ नेतृत्व को दिया है. उन्होंने अपने सिलसिलेवार ट्वीट में लिखा, ‘मोदी जी के दूरदर्शी नेतृत्व, अमित शाह जी की गतिशीलता और करोड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत के बल पर लोकसभा चुनावों में यह ऐतिहासिक जीत हासिल हुई है. नरेंद्र मोदी अब न्यू इंडिया के निर्माण के लिए तैयार हैं.’ राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ से जीत हासिल की है.