भारत में चुनाव नतीज़ों के बीच ही पाकिस्तान ने गुरुवार को मिसाइल परीक्षण किया. इसके साथ ही पाकिस्तान की ओर से कहा गया कि वह भारत के साथ शांति चाहता है. शांति के लिए वार्ता शुरू करने का इच्छुक है.

ख़बरों के मुताबिक पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक के दौरान अपनी भारतीय समकक्ष सुषमा स्वराज से बातचीत की. इसके बाद उन्होंने कहा, ‘हमारी बातचीत के दौरान कोई कड़वाहट नहीं थी. हम अच्छे पड़ोसियों की तरह रहना चाहते हैं. बातचीत के ज़रिए अपने मसले हल करने की इच्छा रखते हैं.’ एससीओ की बैठक किर्गिस्तान की राजधानी बिस्केक में हुई. भारत और पाकिस्तान दोनों इस संगठन के सदस्य हैं.

हालांकि दूसरी तरफ पाकिस्तानी सेना ने शाहीन-2 मिसाइल का परीक्षण कर अपनी तरफ से चुनौती पेश करने की कोशिश भी की. पाकिस्तान की सेना की ओर से जारी बयान में बताया गया, ‘परीक्षण पूरी तरह सफल रहा. शाहीन-2 पाकिस्तान की रणनीतिक ज़रूरताें को पूरा करने में पूरी तरह सक्षम है.’ ग़ौरतलब है कि शाहीन-2 सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल है. इसकी मारक क्षमता 1,500 मील के आसपास है. यह पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है.