केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की वापसी से कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार पर खतरे के बादल मंडराने लगे हैं. इंडिया टुडे के मुताबिक पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने अपने बेटे और राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को इस्तीफे पर विचार करने की सलाह दी है. हालांकि, कुमारस्वामी ने इस्तीफा देने से इंकार कर दिया है. उनका कहना है कि वह हर परिस्थिति का डटकर मुकाबला करेंगे, लेकिन इस्तीफा नहीं देंगे. द न्यूज मिनट के मुताबिक मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को मंत्रियों की एक बैठक भी बुलाई है.

खबरों के मुताबिक इस मामले में एचडी कुमारस्वामी ने कर्नाटक का प्रभार संभाल रहे कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल और डीके शिवकुमार से भी बातचीत की है. कांग्रेस के इन दोनों नेताओं ने उन्हें आश्वासन दिया है कि गठबंधन बना रहेगा. बताया जाता है कि कांग्रेस आलाकमान की ओर से भी मुख्यमंत्री कुमारस्वामी से जल्दबाजी में कोई फैसला न लेने के लिए कहा गया है.

बीते साल कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव में कुल 225 सीटों में से भाजपा को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस को 37, बसपा को 1, केपीजेपी को 1 और अन्य को 2 सीटों पर जीत मिली थी. तब भाजपा के सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते बीएस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री की शपथ ली थी, लेकिन कांग्रेस-जेडीएस के एक साथ आने से वह बहुमत साबित नहीं कर पाए थे. इसके बाद कांग्रेस और जेडीएस ने मिलकर सरकार बनाई थी.