जैसी कि संभावना थी करीब दो महीनों से सोशल मीडिया पर चल रही लोकसभा चुनाव की हलचल गुरुवार को अपने चरम पर दिखी. दिन में जैसे ही लोकसभा चुनाव नतीजों के रुझान आने शुरू हुए थे, उसी हिसाब से यहां पल-पल पर प्रतिक्रियाएं भी आ रही थीं. कौन आगे, कौन पीछे के अपडेट शेयर किए जा रहे थे. फिर दोपहर बीतते-बीतते जब यह तय हो गया कि केंद्र में भाजपा की अगुवाई वाला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) वापसी करने जा रहा है और नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं तब यहां भाजपा समर्थकों में जबर्दस्त उत्साह देखा गया. इसके बाद ट्विटर पर करीब आठ घंटे तक VijayiBharat टॉपिक ट्रेंडिग लिस्ट में सबसे ऊपर रहा और इस पर नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के तमाम बड़े नेताओं और समर्थकों की टिप्पणियां आई हैं. मोदी ने इस टॉपिक पर अपने पहले ट्वीट में लिखा है, ‘सबका साथ + सबका विकास + सबका विश्वास = विजयी भारत.’

भाजपा की जीत का यहां लोगों ने अपनी-अपनी तरह से विश्लेषण किया है और उसे बधाई भी दी है. पत्रकार शिवम विज की प्रतिक्रिया है, ‘हमारे पास यह उम्मीद करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है कि नरेंद्र मोदी की दूसरी पारी पहले के मुकाबले बेहतर रहे.’ इसके अलावा सोशल मीडिया पर कुछ उम्मीदवारों की हार-जीत की खासी चर्चा भी हो रही है. अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की हार पर लोगों ने काफी हैरानी जताई है. पत्रकार राणा अय्यूब का ट्वीट है, ‘अगर राहुल गांधी अपने गढ़ अमेठी में पिछड़ गए हैं तो इसी से पता चलता है कि आज कांग्रेस की क्या हालत है.’

भोपाल संसदीय सीट से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर की जीत पर भी यहां कई लोग हैरान दिखे. लेखक सलिल त्रिपाठी का इसी से जुड़ा ट्वीट है, ‘2019 के चुनाव नतीजे की व्याख्या एक वाक्य में कैसे हो सकती है? ... जिस साल भारत ने महात्मा गांधी की 150वीं जन्मशती मनाई, उस साल देश ने आतंकवाद की एक आरोपित को संसद में भेजा जो गांधी के हत्यारे को सच्चा देशभक्त मानती हैं.’ इसके साथ ही यहां कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों की हार पर खूब प्रतिक्रियाएं आई हैं, कुछ में कमाल का तंज है तो कुछ में कांग्रेस को बड़ी ही तार्किक नसीहतें भी दी गई हैं. लोकसभा चुनाव के नतीजों पर सोशल मीडिया में आई कुछ ऐसी ही दिलचस्प प्रतिक्रियाएं :

उमाशंकर सिंह | @umashankarsingh

यह कांग्रेस के अहंकार, राहुल गांधी के सलाहकार और उनके कुछ प्रिय पत्रकारों की हार है.

कीर्तीश भट्ट | @Kirtishbhat

नरेंद्र नाथ | facebook

लोकसभा चुनाव के नतीजों पर कांग्रेस की पहली प्रतिक्रिया – हुआ तो हुआ.

राहुल देव | @rahuldev2

समय आ गया है कि कांग्रेस की दीर्घायु और पुनर्जीवन के लिए पार्टी नेहरू-गांधी बैसाखी से मुक्त हो. नेतृत्व परिवर्तन किए बिना चारा नहीं. सोनिया-राहुल-प्रियंका आज़माए जा चुके हैं. नीचे से स्वाभाविक नेतृत्व को उभरने का मौका देकर परिवार को खुद ही अलग हो जाना चाहिए.

क्लाउडी जेटली... | @Vishj05

मोदी जी को बधाई, उम्मीद है कि इस बार आपको नेहरू काम करने देंगे.

अमित तिवारी | facebook

भाजपाई कह रहे हैं कि जनता ने काम की वजह से इस पार्टी को वोट दिया है… वही काम जिसकी चर्चा मोदी जी ने अपने कैम्पेन में - 872 बार की थी.

आशीष प्रदीप | facebook

अब कांग्रेस पिछड़ नहीं रही, फ्लैश बैक में जा रही है.