हरियाणा के गुरुग्राम में पारंपरिक टोपी पहनने के लिए 25 वर्षीय मुस्लिम युवक की कथित रूप से पिटाई किए जाने का मामला सामने आया है. रविवार को एक अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि इस घटना में चार लोग शामिल थे. वहीं, पीड़ित की पहचान मोहम्मद बरकर आलम के तौर पर हुई है.

पुलिस में दी गई शिकायत में आलम ने आरोप लगाया है कि सदर बाजार मार्ग पर चार अज्ञात लोगों ने उन्हें रोका और पारंपरिक टोपी पहनने पर आपत्ति जताई. आलम के मुताबिक आरोपियों ने उन्हें धमकी दी और कहा कि इस इलाके में इस तरह की टोपी पहनने की इजाजत नहीं है.

पीटीआई के मुताबिक बिहार के रहने वाले आलम ने अपनी प्राथमिकी में कहा, ‘उन्होंने मेरी टोपी हटा दी और मुझे थप्पड़ मारे साथ ही उन्होंने ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने को भी कहा. मैंने नारा लगाया, लेकिन फिर उन्होंने मुझे ‘जय श्रीराम’ बोलने को कहा जिससे मैंने इनकार कर दिया. इस पर एक युवक ने सड़क किनारे पड़ी लाठी उठाई और बेरहमी से मुझे पीटना शुरू कर दिया. उन्होंने मेरे पैर और पीठ पर वार किया.’

आलम के बयान पर एसीपी ने कहा कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर आरोपितों की पहचान की जा रही है. अधिकारी ने कहा कि उन्हें पकड़ने के प्रयास जारी हैं.