लोक सभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस में इस्तीफ़ों का दौर जारी है. सोमवार को झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार ने पार्टी नेतृत्व को अपना इस्तीफ़ा भेज दिया है. झारखंड कांग्रेस के प्रवक्ता आलोक दुबे ने इसकी पुष्टि की है.

आलोक दुबे ने मीडिया को बताया, ‘प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने राज्य में ख़राब प्रदर्शन की नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए अपना इस्तीफ़ा दिया. हालांकि पार्टी का प्रदर्शन झारखंड में उतना भी बुरा नहीं रहा है. हमने सिंहभूम सीट आसानी से जीती है. जबकि लोहारदग्गा और खूंटी की सीटें बहुत कम अंतर (क्रमश- 10,000 और 1,400 वोट) से हारी हैं.’ ग़ौरतलब है कि इससे पहले उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर और पार्टी की ओडिशा इकाई के प्रमुख निरंजन पटनायक ने भी इस्तीफ़ा दे दिया था.

कर्नाटक कांग्रेस की चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष एचके पाटिल ने भी इस्तीफ़ा दिया है. यहां वीरप्पा मोइली और मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे नेता हार गए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश के अमेठी में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की हार के बाद जिला इकाई के अध्यक्ष योगेंद्र मिश्रा ने इस्तीफ़ा दिया है. ख़ुद राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष का पद छोड़ने की पेशकश की है. हालांकि कांग्रेस कार्यसमिति ने उनकी पेशकश ठुकरा दी है. मगर राहुल गांधी ने अभी अपने फ़ैसले पर पुनर्विचार के संकेत नहीं दिए हैं.