जम्मू-कश्मीर से अमूमन मुठभेड़ में आतंकियों के मारे जाने की ही ख़बरें आती हैं. हालांकि शनिवार को आतंकियों द्वारा हथियार डालने की ख़बर भी सामने आई है. इनके मुताबिक कुलगाम जिले में पांच आतंकियों ने आत्मसमर्पण किया है.

जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से बताया गया, ‘कुलगाम जिले के पांच युवा आतंक का रास्ता छोड़कर मुख्य धारा में लौटे हैं. यह उनके परिवार और पुलिस के प्रयासों का नतीज़ा है. ये पांचों युवा अलग-अलग आतंकी संगठनों से जुड़े थे.’ हालांकि आत्मसमर्पण करने वाले आतंकियों के नाम अभी सार्वजनिक नहीं किए गए हैं.

ग़ौरतलब है कि 2017 में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक नई नीति अपनाई थी. इसके तहत घोषणा की गई थी कि कोई भी स्थानीय युवा अगर हिंसा का रास्ता छोड़कर मुख्य धारा में लौटने की इच्छा जताएगा तो उसकी मांगों पर गंभीरता से विचार किया जाएगा. आत्मसमर्पण करने की स्थानीय युवकों की इच्छा को जारी मुठभेड़ के दौरान भी तरज़ीह दी जाएगी. इसके बाद से घाटी में दर्जनों युवा आतंक का रास्ता छोड़कर अपने परिवारों के पास लौटे हैं.