स्पाइसजेट की योजना पायलट और चालक दल के सदस्यों सहित कुल 2,000 जेट एयरवेज कर्मियों को नौकरी देने की है. इस समय जेट एयरवेज का परिचालन अस्थायी रूप से बंद है जबकि बजट एयरलाइंस स्पाइसजेट अपने परिचालन का विस्तार कर रही है.

स्पाइसजेट के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने पीटीआई से कहा, ‘हमने जेट एयरवेज के लोगों को अपने साथ जोड़ा है. वे काफी योग्य और पेशेवर हैं. हम आगे भी जेट एयरवेज के लोगों को नौकरी देना जारी रखेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘हमने जेट एयरवेज के 1,100 कर्मचारियों को अपने साथ जोड़ा है. उम्मीद है कि यह आंकड़ा 2,000 पर जाएगा. इनमें पायलट, चालक दल सदस्य और हवाई अड्डा सेवाओं, सुरक्षा से जुड़े लोग हैं.’

एयरलाइन पहले ही कम से कम जेट एयरवेज द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले 22 विमानों को अपने बेड़े में शामिल कर चुकी है. नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज ने अप्रैल में अपना परिचालन अस्थायी रूप से बंद कर दिया था. फिलहाल स्पाइसजेट के कर्मचारियों की संख्या 14,000 है और उसके बेड़े में 100 विमान हैं. एयर इंडिया, जेट एयरवेज (अब अस्थायी रूप से ठप) और इंडिगो के बाद यह चौथी एयरलाइन है जिसके पास 100 विमान हैं. स्पाइस जेट 62 गंतव्यों के लिए 575 दैनिक उड़ानों का परिचालन करती है. इनमें नौ अंतरराष्ट्रीय उड़ान हैं.