भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि मानसून अगले 96 घंटे के भीतर केरल में दस्तक दे देगा. आईएमडी के मुताबिक इसके साथ ही अगले 24 घंटे के भीतर उत्तर और दक्षिणी ओडिशा के कुछ इलाकों में गरज के साथ बारिश हो सकती है. आईएमडी के निदेशक एचआर बिस्वास ने कहा है, ‘आठ जून के बाद ओडिशा के विभिन्न इलाकों में तेज बारिश देखने को मिलेगी. लेकिन इसका सटीक अनुमान केरल में मानसून की बारिश शुरू होने के बाद ही लगाया जा सकेगा.’

इस दौरान मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने भी सात जून से केरल में मानसून की बारिश शुरू होने का अनुमान जारी किया है. इससे पहले इस एजेंसी ने चार जून से केरल में मानसूनी बारिश शुरू होने का पूर्वानुमान जताया था. हालांकि तब स्काईमेट ने मानसून की बारिश शुरू होने में चार दिन की जल्दी या फिर इतने ही समय की देर होने की बात भी कही थी. सामान्य तौर पर भारत में मानसून की शुरुआत केरल में बारिश के शुरू होने से मानी जाती है. यहां मई महीने के आखिरी दिनों में या फिर पहली जून तक बारिश की शुरुआत हो जाती है.

इधर, दिल्ली सहित उत्तरी भारत के कई इलाकों को पूर्व की तरफ से आने वाली हवा के बाद प्रचंड गर्मी से कुछ राहत मिली है. हालांकि राजस्थान और उत्तर प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र के कई हिस्से अब भी लू (गर्म हवा) का सामना कर रहे हैं. उत्तर भारत में मानसून के इस महीने के अंत तक पहुंचने की संभावना जताई गई है.