चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए 2021 के विधानसभा चुनाव की रणनीति तैयार करेंगे. इस खबर की चर्चा आज सोशल मीडिया पर कई लोगों ने की है और इसके चलते प्रशांत किशोर कुछ देर के लिए ट्विटर पर ट्रेंडिंग टॉपिक भी बने.

प्रशांत जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के उपाध्यक्ष भी हैं और जेडीयू इस समय भाजपा की अगुवाई वाले गठबंधन एनडीए का हिस्सा है. जबकि बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सामने इस समय मुख्य चुनौती भाजपा ही है. इस वजह से जेडीयू उपाध्यक्ष के टीएमसी के लिए काम करने पर कई लोगों ने हैरानी जताई है. अभिनंदन मिश्रा ने ट्वीट करके पूछा है कि क्या इस काम के लिए उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार की अनुमति ली होगी?

प्रशांत किशोर इससे पहले भाजपा और कांग्रेस समेत आंध्र प्रदेश की वाईएसआर कांग्रेस के जगन मोहन रेड्डी सहित और भी दूसरी पार्टियों और नेताओं के लिए काम कर चुके हैं. इसी हवाले से कई लोगों ने ताजा खबर को लेकर उनकी आलोचना करते हुए कहा है कि उनकी कोई विचारधारा नहीं है.

सोशल मीडिया में इस खबर पर आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

निर्वाणा | @iamdecipherable

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर :

राजदीप सरदेसाई | @sardesairajdeep

पहले मोदी, फिर नीतीश, राहुल गांधी, जगन मोहन रेड्डी और अमरिंदर सिंह से लेकर शिवसेना और अब ममता बनर्जी तक (के लिए प्रशांत किशोर जरूरत बने). प्रशांत किशोर को किसी दिन बहुआयामी राजनीतिक प्रबंधन विषय से जुड़ा अपना महा-गठबंधन स्कूल शुरू करना चाहिए.

शकुनि मामा | @ShakuniUncle

प्रशांत किशोर का अतीत देखें तो लगता है कि अगर वे ममता जी को जिता न पाए तो उनकी भाजपा से दोस्ती जरूर करवा देंगे.

भैया जी | @shrialokmishra

प्रशांत किशोर अब ममता बनर्जी का चुनावी मैनेजमेंट संभालेंगें. वे इससे पहले भी कई पार्टियों को चुनाव लड़वा चुके हैं. अब वे शादियों में बैंड पार्टी के साथ ‘जिम्मी जिम्मी जिम्मी, आजा आजा आजा’ और गाने लगें तो हमारी महान लोकतांत्रिक व्यवस्था, जहां सबकुछ पैसा है, निहाल हो जाएगी. यहां नीति-नीयत-विचार कुछ नहीं है.

देबरती | @debarati_m

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की सेवाएं ली हैं. लेकिन जैसा कि हम जानते हैं, टीएमसी एक गरीब पार्टी है और ममता बनर्जी ईमानदारी का प्रतीक हैं, तो अब प्रशांत किशोर को जो भी भुगतान किया जाएगा, वह सार्वजनिक किया जाना चाहिए.

राग दरबारी‏ | @Rag_Darbari

कल बैठकी में सनीचर ने भी गंज के आगामी परधानी के चुनाव के लिए प्रशांत किशोर की सेवाएं लेने की बात चलाई थी पर बद्री पहलवान ने उसको दुत्कार कर चुप करवा दिया.