महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक-उच्चतर माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शनिवार को एसएससी (सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट- 10वीं कक्षा) परीक्षा का नतीज़ा घोषित कर दिया. बच्चे अपना नतीज़ा mahresult.nic.in और sscresult.mkcl.org जैसी वेबसाइट पर देख सकते हैं.

ख़बरों के मुताबिक इस बार एसएससी परीक्षा में कुल 77.10 प्रतिशत बच्चे पास हुए हैं. इनमें भी कोंकण क्षेत्र 88.38 प्रतिशत पास पर्सेंटेज के साथ अव्वल रहा है. जबकि नागपुर क्षेत्र का पास पर्सेंटेज 67.27 ही रहा है. लड़कों के मुकाबले लड़कियों का प्रदर्शन बेहतर रहा है. इस परीक्षा में 82.82 फ़ीसदी लड़कियां पास हुई हैं. पूरे राज्य में क़रीब 20 बच्चे ऐसे हैं जिन्होंने 100 फ़ीसदी अंक हासिल किए हैं.

वैसे इस बार का परिणाम 2007 के बाद से अब तक का सबसे ख़राब है. साल 2007 में एसएसी का पास पर्सेंटेज 78 रहा था. महाराष्ट्र शिक्षा मंडल की प्रमुख शकुंतला काले ने इस बाबत मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ‘परिणाम शायद इसलिए कम रहा है क्योंकि परीक्षा का तौर-तरीका बदला गया था. इस बदलाव के पीछे मक़सद ये था कि बच्चों में ‘विषय की समझ संपूर्णता से विकसित हो.’