डांवाडोल अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी की समस्या पिछली सरकार की गलत नीतियों जैसे नोटबंदी और जीएसटी का नतीजा है. अब देश की जनता ने मोदी जी के नेतृत्व में नई सरकार चुनी है, चीजें जल्दी ही बदलेंगी.


तरक्की हो तो अमित शाह जैसी. आडवाणी जी की सीट मिली, वाजपेयी जी का घर मिला और राजनाथ सिंह का मंत्रालय मिला.


ममता बनर्जी - अपना कीमती वोट मुझे ही देना. तुम्हारा पूरा नाम क्या है बहन?
जयश्री - जयश्री...
ममता बनर्जी - डालो इसे जेल में.


सप्ताह का कार्टून :

स्रोत : कार्टूनिस्ट कप्तान की फेसबुक पोस्ट से
स्रोत : कार्टूनिस्ट कप्तान की फेसबुक पोस्ट से

मायावती अब जाकर राजनीति में परिपक्व हुई हैं और तभी उन्होंने सोचा कि चुनावों में शून्य सीट तो बसपा अकेले भी ला सकती है, फिर गठबंधन की क्या जरूरत!


यह बात समझ से परे है कि गोडसे, सावरकर, हेडगेवार, गोलवलकर (जो सभी मराठीभाषी थे) की सबसे बड़ी समर्थक पार्टी नेहरू की भाषा को पूरे देश पर थोपना क्यों चाहती है?


भारत में इन दिनों जो लोग देशभक्ति को क्रिकेट से जोड़ रहे हैं, वे न तो क्रिकेट के खेल को ठीक से समझते हैं और न ही देशभक्ति को.