पश्चिम बंगाल में 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस द्वारा चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की सेवाएं लेने की आलोचना करते हुए भाजपा ने कहा है कि वह अमित शाह से बड़े रणनीतिकार नहीं हैं.

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘किशोर की तुलना में अमित शाह बड़े चुनावी रणनीतिकार हैं और जहां तक चुनावी रणनीति का सवाल है, भाजपा प्रमुख उस कॉलेज के प्रिसिंपल हैं जिसमें प्रशांत किशोर अभी तक छात्र हैं.’ भाजपा महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के लिए पार्टी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि बंगाल की जनता का मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर से भरोसा उठ चुका है और कोई भी चुनावी रणनीतिकार इस चीज को बदल नहीं सकता.

प्रशांत किशोर ने गुरुवार को यहां तृणमूल प्रमुख से मुलाकात की थी, जिससे निकट भविष्य में उनके ममता के साथ काम करने को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं. बहरहाल, तृणमूल नेतृत्व और किशोर, दोनों ही इस नियुक्ति के बारे में खुल कर कुछ नहीं बोल रहे हैं. हालांकि, टीएमसी सूत्रों ने बताया कि किशोर के अपनी टीम के साथ जुलाई से बंगाल में काम करने की संभावना है. हालिया लोकसभा चुनाव में राज्य की 42 में 18 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की. वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने 22 सीटें हासिल की.