उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के एक मंत्री ने बलात्कार को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है. राज्य के जल आपूर्ति, भूमि विकास एवं जल संसाधन मंत्री उपेंद्र तिवारी का मानना है कि बलात्कार का अपना एक ‘नेचर’ होता है.

एनडीटीवी के मुताबिक उपेंद्र तिवारी ने कहा, ‘बलात्कार का अपना एक नेचर होता है. अगर एक नाबालिग से बलात्कार किया जाता है तो इसे बलात्कार माना जाएगा. लेकिन, कभी-कभी हम सुनते हैं कि 30-35 साल की शादीशुदा महिला के साथ भी रेप हुआ... सात-आठ साल प्रेम प्रसंग चलेगा, फिर बलात्कार की शिकायत कर दी जाएगी. इस तरह के मामले उठाए जाने चाहिए.’ उपेंद्र तिवारी के इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. हालांकि, इसमें वे यह भी कह रहे हैं कि जहां भी बलात्कार की घटना होती है, वहां मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) खुद संज्ञान लेते हैं और दोषी को सजा दिलाने के लिए कड़ी कार्रवाई की जाती है.

मंत्री उपेंद्र तिवारी का यह बयान ऐसे समय में आया है जब उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक बलात्कार व हत्या के मामले सामने आए हैं. पहले अलीगढ़ में एक ढाई साल की बच्ची की बेरहमी से हत्या कर दी गई. उसके माता-पिता का आरोप है कि हत्या से पहले बच्ची से बलात्कार किया गया था. उसके बाद हमीरपुर में एक नाबालिग दलित किशोरी के बलात्कार व हत्या का मामला सामने आया. इसी सिलसिले में बाराबंकी में एक तीन साल की बच्ची से रेप के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. वहीं, बरेली में भी आठ साल की बच्ची के बलात्कार के मामले ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए.