उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबंध में हुई पैनल चर्चा के बाद नेशन लाइव न्यूज चैनल पर की गई कार्रवाई को लेकर नोएडा के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सफाई दी है.

पीटीआई के मुताबिक जिलाधिकारी बी एन सिंह ने सोमवार को स्पष्ट किया कि चैनल के खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन (राज्य सरकार) से किसी तरह के निर्देश नहीं मिले थे. उनके मुताबिक नोएडा प्रशासन ने यह कार्रवाई चैनल पर मुख्यमंत्री को लेकर की गई चर्चा की गंभीरता और इससे लोगों पर पड़ने वाले प्रभाव को देखते हुए स्वत: संज्ञान लेकर की थी.

जिलाधिकारी ने आगे कहा, ‘नेशन लाइव न्यूज चैनल ने तथ्यहीन व फर्जी खबर प्रसारित कर सामाजिक ताने-बाने को खराब करने की कोशिश की, इससे बलवा होने की पूरी संभावना थी....कार्रवाई के दौरान यह भी पता लगा सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस चैनल को कोई लाइसेंस जारी नहीं किया गया है.’ उनके मुताबिक चैनल पर सीआरपीसी की धारा-144 के तहत कार्रवाई की गयी है जो पूरी तरह तथ्यपरक है.

बीते छह जून को नोएडा से संचालित होने वाले ‘नेशन लाइव न्यूज’ चैनल एक परिचर्चा आयोजित की गयी थी जिसमें एक महिला द्वारा मुख्यमंत्री पर लगाए गए कथित अपमानजनक आरोपों पर चर्चा की गई थी. इसके बाद बीते शनिवार को पुलिस ने इस चैनल की प्रमुख इशिका सिंह व संपादक अनुज शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया था.