पंजाब के संगरूर जिले में करीब पांच दिन पहले बोरवेल में गिरे दो वर्षीय बच्चे को बचाया नहीं जा सका. फतेहवीर सिंह नाम का यह बच्चा 150 फुट गहरे बोरवेल में करीब 110 घंटों तक फंसा रहा. कड़ी मशक्कत के बाद आज सुबह उसे बाहर निकाला गया. लेकिन अस्पताल ले जाए जाने तक उसकी मौत हो गई.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक फतेहवीर को सुबह 5.30 बजे के आसपास बोरवेल से निकाला गया था. वहां डॉक्टरों की एक टीम ने उसके स्वास्थ्य की जांच की. संगरूर के उपायुक्त घनश्याम थोरी ने बताया कि बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया था. वहां बच्चे को मृत घोषित कर दिया गया.

बीते गुरुवार को जिले के भवनपुरा गांव के एक मैदान में खेलते हुए फतेहवीर सिंह बोरवेल में गिर गया था. अधिकारियों ने बताया कि बोरवेल कपड़ों से ढका हुआ था, इसलिए बच्चे को वह दिखाई नहीं दिया.

इसके बाद बच्चे को बाहर निकालने के लिए व्यापक स्तर पर बचाव अभियान चलाया गया. पीटीआई के मुताबिक अधिकारी बच्चे तक ऑक्सीजन पहुंचाने में तो सफल रहे, लेकिन वे उस तक खाने-पीने का सामान नहीं पहुंचा पाए थे.