उत्तर प्रदेश में पत्रकारों के साथ हो रहे व्यवहार को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली राज्य सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है, ‘जनता के मुद्दों पर काम करने के बजाय, उत्तर प्रदेश सरकार पत्रकारों, किसानों, प्रतिनिधियों पर डर का डंडा चला रही है.’ प्रियंका गांधी ने यह बात कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कही. साथ ही उनका यह ट्वीट मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश के बाद आया है जिसमें उसने उत्तर प्रदेश पुलिस को दिल्ली से गिरफ्तार एक पत्रकार प्रशांत कनौजिया रिहा करने का आदेश दिया था.

इससे पहले राहुल गांधी ने अपने ट्वीट के जरिये योगी आदित्यनाथ सरकार पर ‘मूर्खतापूर्ण’ ढंग से व्यवहार करने के आरोप लगाए थे. साथ ही गिरफ्तार किए गए पत्रकारों को फौरन रिहा किए जाने की जरूरत भी बताई थी. उसी ट्वीट से उन्होंने यह भी कहा था, ‘अगर मेरे खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रायोजित विषैले दुष्प्रचार चलाने और गलत रिपोर्ट देने के लिए पत्रकारों को जेल में डाला जाए तो ज्यादातर अखबारों और चैनलों को बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की कमी का सामना करना पड़ जाएगा.’

इससे पहले बीते हफ्ते योगी आदित्यनाथ से जुड़ी एक पोस्ट शेयर करके उनकी छवि खराब करने के आरोप में उत्तर प्रदेश पुलिस ने कुछ पत्रकारों को गिरफ्तार किया था. उनमें प्रशांत कनौजिया भी शामिल थे.