पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर एक बार फिर हमला बोला है. उन्होंने कहा है, ‘बंगाल कोई खिलौना नहीं है और भाजपा के लोग इससे खेल नहीं सकते. ऐसा भी नहीं है कि आप (भाजपा) अपनी इच्छा के मुताबिक बंगाल के साथ कुछ भी कर सकते हैं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘आज बंगाल को गुजरात जैसा बनाने की साजिश रची जा रही है. हमें अपनी संस्कृति को बचाना होगा.’ ममता बनर्जी ने ये बातें कोलकाता के विद्यासागर कॉलेज में ईश्वर चंद विद्यासागर की एक नई प्रतिमा के अनावरण के मौके पर कहीं.

इसी मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘मैंने पश्चिम बंगाल से वामदलों के 34 साल पुराने शासन को खत्म किया है. लेकिन तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ताओं और राज्य सरकार ने लेनिन और कार्ल मार्क्स जैसे विचारकों की प्रतिमाओं के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की.’ इसके साथ ही उन्होंने कोलकाता के कॉलेज रोड पर आशुतोष मुखर्जी, रबींद्रनाथ टैगोर, ईश्वरचंद्र विद्यागर और काजी नजरूल इस्लाम की कांसे से बनी प्रतिमाएं लगवाने की घोषणा भी की.

इससे पहले बीते लोकसभा के चुनाव के दौरान गृह मंत्री अमित शाह (तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष) ने कोलकाता में एक रोड शो किया था. उस कार्यक्रम में हिंसा और आगजनी देखने को मिली थी और उसी दौरान कुछ अराजक तत्वों ने ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा भी ढहा दी थी. बाद में भाजपा ने मूर्ति ढहाने के लिए टीएमसी जबकि ममता ने उसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया था. उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक जनसभा में उस जगह पंचधातु से बनी नई मूर्ति लगवाने की बात कही थी, लेकिन ममता बनर्जी ने उनके उस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था.