केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की मियाद छह महीने के लिए और बढ़ाने को मंजूरी दे दी. यह फैसला तीन जुलाई से लागू होगा. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने यह जानकारी दी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में फैसला लिया गया कि जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन को छह महीने के लिए और बढ़ा दिया जाए. राज्य में 20 जून 2018 को राष्ट्रपति शासन लगाया गया था. मंत्रिमंडल ने इसे छह महीने और विस्तार देने का फैसला किया है.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राज्य में राष्ट्रपति शासन को लागू करने वाली उद्घोषणा पर हस्ताक्षर करेंगे जो तीन जुलाई से प्रभाव में आएगी. राज्य के हालात के देखते हुए जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राज्य में राष्ट्रपति शासन बढ़ाने की सिफारिश की थी. जिसके बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल ने यह फैसला लिया.